fbpx
Breaking News

महाविद्यालय में जनसुनवाई पर बनी सहमति-नादौती

छात्र संघर्ष समिति के चल रहे धरने सहायक आचार्य की प्रतिनियुक्तियों की प्रीति लेकर एवं विधायक के द्वारा महाविद्यालय में जनसुनवाई पर बनी सहमति

नादौती – राजकीय महाविद्यालय में चल रहे विभिन्न मांगों को लेकर 3 दिन से धरना आज समाप्त हो गया है छात्रों की मांगों को लेकर प्रि विधायक पी आर मीणा ने मुख्यमंत्री से मुलाकात कर छात्रों की समस्याओं से अवगत कराया था महाविद्यालय के सहायक आचार्य के प्रति नियुक्तियों को स्थगित कर प्रीति छात्रों को विधायक के द्वारा भेजे गए प्रतिनिधिमंडल ने संघर्ष समिति को सौंप दी गई है इससे छात्रों में सहमति बन गई एवं अन्य समस्याओं को लेकर इसी सप्ताह में क्षेत्रीय विधायक के द्वारा महाविद्यालय में जनसुनवाई की जाएगी समस्त समस्याओं का समाधान किया जाएगा विधायक के द्वारा भेजे गए प्रतिनिधिमंडल में ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष शीशराम खटाना जिला कांग्रेस उपाध्यक्ष मुरारी लाल गुर्जर सरपंच संघ के पूर्व अध्यक्ष हंसराज गुर्जर ब्लॉक कांग्रेस का उपाध्यक्ष दयाराम गुर्जर सहायक आचार्य की प्रति नियुक्तियों को स्थगित की कॉपी महाविद्यालय के प्राचार्य एम एल गुप्ता एवं छात्रों को सौंप कर अन्य समस्याओं के समाधान के द्वारा निस्तारण करवाने के लिए आश्वस्त किया इससे छात्र संघर्ष समिति के सदस्य सहमत हो गए एवं अनिश्चितकालीन धरना समाप्त करने की घोषणा की छात्र संघर्ष समिति के अखलेश गुर्जर, पवन खटाना, राकेश खटाना ,महेश खटाना ,केदार खटाना, जयवीर गुर्जर, राजेश खटाना ,रामकेश खटाना, शैतान सिंह धमाडी, प्रवेश खटाना, हरेंद्र सिंह सहित संघर्ष समिति के सदस्य मौजूद रहे एवं खटाना परिवार के पंच पटेलों में पूर्व सरपंच सुग्रीम सिंह खटाना पूर्व सरपंच शिवचरण खटाना मौजूद रहे

हमें Support करें।

हमें इस पोर्टल को चलाये रखने और आपकी आवाज को प्रशासन तक पहुंचने के लिए आपकी सहायता की जरुरत होती है। इस न्यूज़ पोर्टल को लगातार चलाये रखने के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करके हमें सब्सक्राइब कर हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Subscribe

Check Also

टोडाभीम चिकित्सालय में चरमराई चिकित्सा सेवाएं

टोडाभीम चिकित्सालय में चरमराई चिकित्सा सेवाएंगुरुवार को नहीं हो पाया गर्भवती महिलाओं एवं बच्चों का …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *