fbpx
Breaking News

करोना से रेल इंजीनियर की मौत, ट्रेकमेंटनरों में थे बहुत लोकप्रिय

करोना से रेल इंजीनियर की मौत, ट्रेकमेंटनरों में थे बहुत लोकप्रिय
कोटा।. कोटा मंडल में रविवार को भी एक रेल इंजीनियर की मौत का मामला सामने आया है। मौत के समय इंजीनियर अपने गांव में थे। अधिकारियों ने बताया कि इंजीनियर कृपा शंकर भवानीमंडी में वरिष्ठ खंड अभियंता (रेल पथ) पद पर कार्यरत थे।
बुखार होने पर कृपा शंकर ने अपनी कोरोना जांच कराई थी। लेकिन रिपोर्ट आने से पहले कृपाशंकर 18 अप्रैल को उत्तर प्रदेश अपने गांव चले गए। यहां तबीयत और बिगड़ने पर परिजनों ने कृपा शंकर को अस्पताल में भर्ती कराया था। यहां वेंटिलेटर पर शनिवार रात कृपाशंकर की मौत हो गई।
कृपा शंकर कि कोरोना पॉजिटिव आई थी। करीब 56 वर्षीय कृपाशंकर को शुगर और बीपी की भी समस्या थी।
अधिकारियों ने बताया कि कृपाशंकर प्रकृति प्रेमी थे और अपने स्टाफ के बीच बहुत लोकप्रिय थे। सीधे सरल कृपया शंकर ट्रेकमेंटनरों के साथ खाना खाने में भी परहेज नहीं करते थे। कृपा शंकर के जाने की खबर सुनकर सभी ट्रेकमेंटनर गहरे शोक में डूब गए।
ट्रेकमेंटेनरों ने कृपाशंकर की याद में उनकी पुण्यतिथि पर हर साल 100 पौधे लगाने का निर्णय लिया है।
कृपा शंकर ने 12 अप्रैल को वैक्सीन का पहला डोज लगवाया था

हमें Support करें।

हमें इस पोर्टल को चलाये रखने और आपकी आवाज को प्रशासन तक पहुंचने के लिए आपकी सहायता की जरुरत होती है। इस न्यूज़ पोर्टल को लगातार चलाये रखने के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करके हमें सब्सक्राइब कर हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Subscribe

Check Also

अस्पताल में एक सप्ताह से नहीं हो रही कोविड मरीजों की भर्ती।

अजमेर में कोविड शील्ड वैक्सीन नहीं होने से दूसरी डोज लगवाने वाले परेशान। मित्तल अस्पताल …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *