मानसिंह गुर्जर

Gangapur City : विधायक केवल नाम के ही मुख्यमंत्री के सलाहकार, उनकी सरकार में चलती नही – पूर्व विधायक मानसिंह गुर्जर

चंबल के पानी को लेकर विधायक रामकेश मीणा द्वारा एसडीएम कोर्ट पर धरना देने के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए पूर्व विधायक मानसिंह गुर्जर ने कहा कि इसका सीधा सा अर्थ है कि विधायक केवल नाम के ही मुख्यमंत्री के सलाहकार है उनकी सरकार में चलती नही है कांग्रेस से उनका मोह भंग हो चुका है । वोटो की खेती काटने के उद्देश्य से जनता को भ्रमित करने वाला जो उनका खेल है वो बार बार चलने वाला नही है ।

गुर्जर ने कहा कि स्थानीय विधायक को स्वीकार करना चाहिए की उनकी सरकार में चलती नही है अगर वो काम करने में असफल है तो उन्हें पद से इस्तीफा दे देना चाहिए । सरकार के खिलाफ लड़ने की उनकी हिम्मत नही है वो केवल स्वांग करना चाहते है जिसे जनता समझ चुकी है । उनमें जरा भी नैतिकता है तो अपनी गलती स्वीकार करे कि गंगापुर की जनता को न केवल पेयजल की बल्कि सड़को की जो हालत है शहर में जो भ्रष्टाचार , भूमाफियाओं का खेल ये सब उनके कारण है ।उन्होंने जिन भूमाफियाओं को लूटने की छूट दी थी आज उन्होंने पूरे गंगापुर को खोखला कर दिया है ।

यह भी पढ़ें :   खुली बैठक में बनी विकास कार्यों की योजना । शिवाड़

गुर्जर ने कहा कि आने वाले भाजपा राज में इन सारे घोटालों की जांच होगी और जो भी दोषी होंगे वो सलाखों के पीछे होंगे । विधायक धरने की बात कह कर जनता का ध्यान हटाना चाहते है जबकि भाजपा इस लड़ाई को मजबूती से लड़ेगी और सरकार की ईंट से ईंट बजाने का काम करेगी । गंगापुर के हितों के साथ खिलवाड़ करके विधायक बच नहीं सकते । आज गंगापुर की आम जनता चारो तरफ से से त्रस्त है । साथ ही गुर्जर ने राज्य के मंत्री परसादी लाल मीणा द्वारा महिला के साथ जिस प्रकार की अभद्र टिप्पणी की है उसे निंदनीय बताते हुए परसादी मीना से माफी मांगने की बात कही।

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें