fbpx
Breaking News

सभी वाहनों फास्टैग अनिवार्य ,जिन गाडिय़ों पर नहीं होगा, उनकी परमिट व फिटनेस संबंधित फाइले रूकेंगी

अब सभी वाहनों फास्टैग अनिवार्य ,जिन गाडिय़ों पर नहीं होगा, उनकी परमिट व फिटनेस संबंधित फाइले रूकेंगी

परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने जारी किया नोटिफिकेशन, टोलप्लाजा एवं बैकों से खरीद सकते है-गंगापुर सिटी
केन्द्र सरकार ने सभी चार पहिया वाहनों के लिए एक जनवरी 2021 से फास्टैग को अनिवार्य कर दिया है। भारत सरकार के सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने एक नोटिफिकेशन जारी किया है। जिसमें एक जनवरी से सभी चार पहिया वाहनों के लिए फास्टैग को अनिवार्य कर दिया। यह पुराने वाहनों के साथ एम और एन कैटेगिरी के मोटर वाहनों पर भी लागू होगा, जिनकी बिक्री एक दिसंबर 2017 से पहले हुई है। इसका फायदा है कि वाहनों में फास्टैग लगाने से आप बिना इंतजार किए आसानी से टोल क्रॉस कर पाएगें। इससे लंबी लाइनों में लगने के कारण बेवजह खर्च होने वाले तेलकी बचत होगी। अब फास्टैग लगाने को एक महीने से ज्यादाका टाइम बचा है। जिन व्हीकलों के लिए फास्टैगअनिवार्य किया है। यदि वह नहीं लगवाएंगे तो उनकी आगामी कागजी प्रक्रिया रूक जाएगी।उनके परमिट, पासिंग समेत अन्य डॉक्यूमेंट्स प्रक्रिया में फास्टैग की डिटेल्स को चेक किया जाएगा। इसलिए वाहन संचालक इसको गंभीरता से लेते हुए काम करे। केन्द्रीय मोटर व्हीकल नियम,1989 के मुताबिक फास्टैग को एक दिसंबर 2017 के बाद खरीदे गए चार पहिया वाहनों के सभी नए रजिस्ट्रेशन के लिए अनिवार्य बना दिया गया था। वाहन निर्माता या डीलर द्वारा फास्टैग की सप्लाई की जा रही है। इसके साथ यह भी अनिवार्य किया गया है कि फिटनेस सर्टिफिकेट का रिन्युअल केवल ट्रांसपोर्ट वाहनों पर फास्टैग लगाने के बाद ही किया जाएगा।नेशनल परमिट वाहनों के लिए फास्टैग लगाने को एक अक्टूबर 2019 से अनिवार्य किया गया था। नए थर्ड पार्टी इंश्योरेंस के सर्टिफिकेट में संशोधन के जरिए होगा, जहां फास्टैग की आईछी की डिटेल्स को देखा जाएगा। यह फैसला एक अप्रेल 2021 से लागू होगा। जिला परिवहन अधिकारी ने बताया कि परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय की तरफ से नोटिफिकेशन जारी हुआ है। इसमें फास्टैग को अनिवार्य कर दिया है। इससे चालकों का टाइम और मेल दोनो बचता है।
 इस तरह से खरीद सकते है फास्टैग…
राष्ट्रीय राजमार्ग टोल प्लाजा और 22 विभिन्न बैक से फास्टैग स्टीकर खरीदे जा सकते है। यह पेटीएम,अमेजनऔर फ्लिपकार्ड जैसे ई-कॉमर्स प्लेटफार्म पर भी उपलब्ध है। इसके अलावा फाइन पेमेंट बैक और पेटीएम पेमेंट बैक भी फास्टैग जारी करते है। यदि फास्टैग एनएचएआई प्रीपेड वॉलेट से जुड़ा है तो इसे चेक के माध्यम से या यूपीआई, डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड,एनईएफटी, नेट बैकिंग आदि के माध्यम से जुड़ा है तो इसे चेक के माध्यम से या यूपीआई, डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड, एनईएफटी, नेट बैकिंग आदि के माध्यम से रिचार्ज किया जा सकता है। अगर पेटीएम वॉलेट फास्टैग से लिंक होता है तो पैसे सीधे वॉलेट से काट लिए जाते है।

हमें Support करें।

हमें इस पोर्टल को चलाये रखने और आपकी आवाज को प्रशासन तक पहुंचने के लिए आपकी सहायता की जरुरत होती है। इस न्यूज़ पोर्टल को लगातार चलाये रखने के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करके हमें सब्सक्राइब कर हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Subscribe

Check Also

18 वर्ष वालों को वैक्सीन लगाने के लिए 200 करोड़ डोजेज चाहिए।

18 वर्ष वालों को वैक्सीन लगाने के लिए 200 करोड़ डोजेज चाहिए। नेगेटिव रिपोर्ट के …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *