fbpx
Breaking News

गांधी कॉलोनी में दो पक्षों में झगड़ा,मची अफरा -तफरी-गंगापुर सिटी

गांधी कॉलोनी में दो पक्षों में झगड़ा,मची अफरा -तफरी

तीन जने हुए घायल-गंगापुर सिटी
शहर की गांधी कॉलोनी में गुरुवार सुबह किसी बात को लेकर दो पक्षों में झगड़ा हो गया। झगड़े के इस दौरान लाठिया व सरिये जमकर चले। जिससे कॉलानी में अफरा-तफरी सी मच गई।
इसके चलते एक ही पक्ष के तीन जने घायल हो गए। बाद में उन्हें राजकीय सामान्य चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। इस दौरान चिकित्सालय में भी महिलाओं ने जमकर शोर शराफा किया गया। बाद में लोगों की समझाईश के बाद वह अस्पताल से वापस चले गई।घायल हुए मदनगिरी (दिल्ली) निवासी अर्जुन हरिजन पुत्र राजू लाल, गांधी कॉलोनी हरिराम व अमावरा निवासी दिनेश घायल हो गए। जहां तीनों का उपचार सामान्य चिकित्सालय में जारी है।
इस संबंध में बड़ा मोहल्ला गांधी कॉलोनी निवासी माया पत्नी रमेश बाल्मिकी ने कोतवाली थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई कि गुरुवार सुबह करीब 10-11 बजे वह और उसका पति रमेश व दामाद अर्जुन कोली मोहल्ला में रहने वाले भगत के पास पूजा  की विधि पूछने गए थे। जब उसका पति तथा दामाद वापिस घर लौट रहे थे तो रास्ते में राजू उफ्र प्रदीप के मकान के सामने से निकलकर जा रहे थे। तो माया ने लखन पुत्र मनोज से 500 रुपए के खुल्लेमांगे थे तो लखन ने माया से गाली- गलौचकी। मना करने पर हाथ पकड़कर अपनीओर खीच लिया। ओर उसके साथ मारपीट कर दी। इस दौरान उसे बचाने का प्रयास किया तो लखन के भाइ्र राजू , संजय, गोविन्द,सनी, प्रमोद, सन्तरा,मन्जू निवासी गांधी कॉलोनी ने लाठी डण्डे सरिये ,गण्डासी तलवार लेकर आए ओर जान से मारने को लेकर हमला कर दिया। जिससे मदनगिरी (दिल्ली) निवासी अर्जुन हरिजन पुत्र राजू लाल, गांधी कॉलोनी हरिराम व अमावरा निवासी दिनेश घायल हो गए। बाद में घायलो को सामान्य चिकित्सालय में भर्ती कराया गया। इस दोरान लोगों की भीड़ जमा हो गई।

हमें Support करें।

हमें इस पोर्टल को चलाये रखने और आपकी आवाज को प्रशासन तक पहुंचने के लिए आपकी सहायता की जरुरत होती है। इस न्यूज़ पोर्टल को लगातार चलाये रखने के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करके हमें सब्सक्राइब कर हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Subscribe

Check Also

lockdown in rajasthan

#LockDown 3 मई सुबह पांच बजे तक पूरे प्रदेश में जन अनुशासन पखवाड़ा मनाया जाएगा।

आज पूरे दिन की चर्चा के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लिया फैसला। इस फैसले …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *