fbpx
Breaking News

हैल्प डेस्क, माइक्रो कंटेनमेंट जोन में युद्ध स्तर पर कार्य सम्पादित करेः कलेक्टर

हैल्प डेस्क, माइक्रो कंटेनमेंट जोन में युद्ध स्तर पर कार्य सम्पादित करेः कलेक्टर
टीम का गठन कर प्रभावी मॉनिटरिंग के दिए निर्देश
सवाईमाधोपुर, 22 अप्रैल। जिले के किस सरकारी और निजी अस्पताल में कितने कोविड बेड खाली हैं, इनमें आईसीयू बेड कितने हैं, ऑक्सीजन कितनी उपलब्ध है, कितने वेंटिलेटर खाली हैं, यह सूचना उस अस्पताल के डिस्प्ले बोर्ड पर तो अंकित होगी ही जिला और राज्य स्तरीय कन्टोल रूम को भी इसकी रियल टाइम जानकारी होगी जिससे मरीज के परिजन बेड के अभाव में एक अस्पताल से दूसरे अस्पताल में न भटकें तथा मरीज को समय पर उपचार मिल सके।
कलेक्टर राजेन्द्र किशन ने इस व्यवस्था की निगरानी के लिये एडीएम की अध्यक्षता में जिला स्तरीय दल गठित किया है। इसमें सवाईमाधोपुर ब्लॉक मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. दिलीप मीणा 9413380862 और रीको के वरिष्ठ प्रबंधक बी. एल मीना 9414040691 शामिल हैं।
कलेक्टर ने गुरूवार को कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक लेकर इल दल और जिला स्तरीय हैल्प लाइन के दायित्वों, कार्याे तथा तत्परता से कार्य करने के बारे में सम्बंधित कार्मिकों को जानकारी और निर्देश दिये।
कलेक्टर ने निर्देश दिये कि जिले के अस्पतालों में किसी भी हालत में ऑक्सीजन की उपलब्धता कम न हो तथा ऑक्सीजन की मरीज तक सप्लाई में कोई तकनीकि खराबी न आये। पावर कट न हो फिर भी पावर कट हो जाये तो वैकल्पिक व्यवस्था रखें ताकि ऑक्सीजन सप्लाई में बाधा न आये। यह जिला प्रशासन की सर्वोच्च प्राथमिकता है। इसमें जरा सी भी चूक कतई बर्दाश्त नहीं की जायेगी।
एसपी सुधीर चौधरी ने ग्राम और वार्ड स्तरीय निगरानी समितियों को पूर्ण सक्रिय रखने तथा माइक्रो कंटेन्मेंट जोन में प्रोटोकॉल की पूर्ण पालना के लिये बीट कांस्टेबल, पैरा मेडिकल स्टाफ और पटवारी को पूर्ण सक्रिय रहने के निर्देश दिये।
एडीएम की अध्यक्षता में स्थापित दल जिले में स्थित राजकीय व निजी चिकित्सालयों से समन्वय स्थापित कर कोविड मरीजों के उपचार हेतु उपलब्ध बैड की संख्या में वृद्धि हेतु आवश्यक उपाय करेगा तथा ऐसे सरकारी या निजी भवन जिनका उपयोग कोविड केयर सेन्टर के रूप में किया जा सकता है, को चिन्हित करते हुये उनमें चिकित्सा सुविधा और स्टाफ उपलब्ध करवाने का कार्य करेगा।
सवाईमाधोपुर जिले के डेडीकेटेड कोविड अस्पताल में अन्य समीपवर्ती जिलों से रैफरल या बिना रैफरल कोविड मरीज आ रहे हैं तो यह दल समीक्षा करेगा तथा उन जिलों के स्थानीय प्रशासन से समन्वय करेगा ताकि सवाईमाधोपुर की स्वास्थ्य सुविधाओं पर अनावश्यक दबाव न पडे, साथ ही अन्य जिलों के मरीजों को स्थानीय शहर में ही इलाज मिले जिससे उनका स्वास्थ्य बिगडने का खतरा न हो। यह दल यह भी सुनिश्चित करेगा कि सवाई माधोपुर जिले के कोरोना संक्रमित मरीजों का उपचार यथासंभव यहींे हो, मरीज की हालत के आधार पर तथा संभाग स्तरीय कमेटी के अनुशंषा पर ही उसे हायर सेन्टर के लिए रैफर किया जाएगा। कोविड मरीज, उसके परिजन द्वारा मांग किये जाने पर मरीज की मेडिकल स्थिति के अनुरूप राजकीय व निजी चिकित्सालयों में उपलब्ध रिक्त कोविड बैड की स्थिति से अवगत करायेगा। मरीज व उसके परिजन की सहमति पर बैड रिक्त होने की स्थिति में राजकीय व निजी चिकित्सालयों में भर्ती करवाया जाना सुनिश्चित करेगा। कई बार बिना लक्षणों वाले व सामान्य बीमार मरीज व उनके परिजनों द्वारा कोविड हॉस्पिटल में भर्ती किये जाने की मांग की जाती है। यह दल ऐसे मरीजों को उनकी मेडिकल स्थिति के अनुरूप कोविड केयर सेन्टर में भर्ती करने का निर्णय लेगा। जिले में बैड, एम्बूलेन्स की उपलब्धता के संबंध में प्राप्त शिकायतों का इल दल द्वारा 24 घण्टे में निराकरण किया जायेगा।

हमें Support करें।

हमें इस पोर्टल को चलाये रखने और आपकी आवाज को प्रशासन तक पहुंचने के लिए आपकी सहायता की जरुरत होती है। इस न्यूज़ पोर्टल को लगातार चलाये रखने के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करके हमें सब्सक्राइब कर हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Subscribe

Check Also

चलती टेम्पो से महिला के गले से मंगल सूत्र तोड़ भागे बदमाश

गंगापुरसिटी सवाई माधोपुर चलती टेम्पो से महिला के गले से मंगल सूत्र तोड़ भागे बदमाश …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *