train

Indian Railways : मालगाड़ी से रिसा तेल, पटरियों पर फेलने स्लिप हुए ट्रेनों के पहिए, दूसरे इंजन से धक्का देकर चलाई गाड़ियां

Indian Railways : मालगाड़ी से रिसा तेल, पटरियों पर फेलने स्लिप हुए ट्रेनों के पहिए, दूसरे इंजन से धक्का देकर चलाई गाड़ियां, जांच के आदेश
Kota Rail News : कोटा-शामगढ़ रेलखंड में रविवार को एक मालगाड़ी से तेल का रिसाव हो गया। यह तेल पटरियों पर फैलने से ट्रेनों के पहिए स्लिप होने लगे। इसके चलते काफी देर तक रेल यातायात बाधित रहा। कई गाड़ियों को पिछे से दूसरे इंजन से धक्का देकर चलाया गया। प्रशासन ने मामले की जांच के आदेश दिए हैं।
सूत्रों ने बताया कि तेल के टैंकरों वाली यह गाड़ी अहमदाबाद की ओर जा रही थी। रास्ते में अचानक एक टैंकर से तेल लीकेज होने लगा। यह तेल पटरियों पर गिरने लगा। दरा आदि घुमाव वाली जगह पर पटरियों पर ज्यादा तेल गिरा। इसके चलते तेल रिसाव वाली मालगाड़ी के पीछे चलने वाली गाड़ियों के पहिए स्लिप होने लगे। पहिए बार-बार स्लिप होने से गाड़ियां अपनी रफ्तार नहीं पकड़ पा रही थीं।
कोटा से रवाना हुई एक मालगाड़ी के चालक इस समस्या को नोट कराया। इसके बाद कोटा में पीछे इंजन लगाकर दो-तीन मालगाड़ियों को आगे रवाना किया गया।
पहिए स्लिप होने के कारण जोधपुर-इंदौर इंटरसिटी रणथंबोर और जयपुर-मुंबई सुपरफास्ट ट्रेन भी देरी से चली।
शामगढ़ में रोकी मालगाड़ी
सूचना मिलने पर शाम को मालगाड़ी को शामगढ़ स्टेशन पर रोका गया। जहां जांच के दौरान एक टैंकर से तेल लीकेज होने का पता चला। यह रिसाव टैंकर से तेल निकालने वाली जगह से नट बोल्ट ढीले होने के कारण हो रहा था। बाद में इस जगह की मरम्मत कर तेल का रिसाव बंद किया गया। सूत्रों ने बताया कि टैंकर खाली था। खाली होने के बाद भी टैंकर में कुछ देर बचा रह जाता है। यही तेल पटरियों पर फेल रहा था। फिलहाल तेल की श्रेणी का पता नहीं चला।
अहमदाबाद के पास एक फैक्ट्री में पेट्रोलियम पदार्थों का उत्पाद होता है। खाली होने के बाद यह माल गाड़ी नहीं जा रही थी।

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें