Tonk : तीन विद्यार्थी यूक्रेन में फंसे लगाई मदद की गुहार |

Tonk : तीन विद्यार्थी यूक्रेन में फंसे लगाई मदद की गुहार | Russia-Ukraine war

Tonk : तीन विद्यार्थी यूक्रेन में फंसे लगाई मदद की गुहार | Russia-Ukraine war

छात्रों की फ़रियाद-टोंक

रूस की ओर से यूक्रेन पर किए गए हमले के बाद टोंक शहर के भी तीन स्टूडेंट यूक्रेन में फंस गए हैं..
टोंक रूस की ओर से यूक्रेन पर किए गए हमले के बाद टोंक शहर के भी तीन स्टूडेंट यूक्रेन में फंस गए हैं… इनमें टोंक शहर के बड़ा कुआ निवासी रित्विक बजाज, विकास विहार में रहने वाले आयुष गौतम व मोहम्मद फराज खान शामिल हैं। कीव के समीप ही विनिष्ठा मेडिकल यूनिवर्सिटी में चौथे साल की पढ़ाई कर रहे। हाॅस्टल में रह रहा रित्विक ने वीडियो कॉलिंग कर मां पायल बजाज से बातचीत में कहा कि हालात बहुत खराब हो चुके हैं। रह रहकर छतों से जेट विमानों की गूंज व धमाकों से सो नहीं पा रहे हैं। उन्हें हॉस्टल से बाहर नहीं निकलने की चेतावनी दी गई है। सायरन को लेकर हमे डायरेक्शन दिए गए हैं। सायरन बजते ही बेसमेंट में बने बंकर में चले जाते हैं। वहीं आयुष गौतम के पिता पुरूषोत्तम ने बताया कि लगातार फोन कर बच्चे परेशान हो रहे है…और लगातार वतन वापसी के प्रयास कर रहे है…रेटिंग अब तक स्थानीय प्रशासन ने उनसे कोई सम्पर्क नहीं किया..और वह लगातार भारतीत दूतावास से सम्पर्क करने का प्रयास कर रहे है ताकिद बेटा सकुशल घर लौट आए…वहीं छात्र आयुष ने भी वीडियो कोलिंग के माध्यम से बात कर अपनी पीड़ा रखी‌…कहा कि लगातार साइरन बज रहे है.. सायरन की आवाज सुनते ही बंकर में छिप रहे हैं। वही रित्विक ने रोते हुए कहा कि शुक्रवार को ज्योही खाना बनाने लगे तो पता चला कि पॉवर ग्रिड पर मिसाइल हमला होने से बिजली गुल है। जबकि खाना बिजली के चूल्हों पर ही तैयार होता था। ऐसे में बिस्किट व नमकीन खाकर पेट भर रहे हैं। उसका कहना है कि रोमानिया जा रहे स्टूडेंट निजी पैसा खर्च कर निकल रहे है। 5 घंटे का सफर 15 घंटे तक में पूरा हो रहा है। कुछ स्टूडेंट 27 हजार रुपए तक देकर रोमानिया निकल गए।

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें