fbpx
बुधवार , अक्टूबर 27 2021
Breaking News
Phone Panchayat

अंतरिक्ष में भोजन उत्पादन के नए आइडिया बताएं, 5 लाख डॉलर पाएं

अंतरिक्ष में भोजन उत्पादन के नए आइडिया बताएं, 5 लाख डॉलर पाएं

अगर अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के दूरगामी लक्ष्य की बात करें तो वह है मंगल के लिए मानव अभियान. नासा फिलाहाल अपने आर्टिमिस मिशन की जो तैयारी कर रहा है वह उसी की तैयारी का हिस्सा माना जा रहा है. मंगल और उसके जैसे लंबे अंतरिक्ष अभियानों के लिए एक बड़ी चुनौती एस्ट्रोनॉट के लिए भोजन की व्यवस्था करना है. नासा ने इस समस्या के समाधान के लिए लोगों के लिए एक चैलेंज रखा है.

पृथ्वी  से मंगल की दूरी 11.4 करोड़ किलोमीटर है. वैसे तो इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन में कई तरह के पौधे उगाए गए हैं जो लंबी अंतरिक्ष यात्रा के दौरान उगाए जा सकते हैं. वहां आसान से भोजन भेजा जा सकता है, लेकिन मंगल जैसे ग्रह के लिए यात्रा बहुत दूर की और लंबी होगी जहां सामान ले जाना यान का भार ही बढ़ाएगा. ऐसे में  इसका एकमात्र उपाय यात्रा के दौरान भोजन के उत्पादन की क्षमता विकसित करना होगा.

इस चुनौती से उबरने के लिए नासा ने आंत्रप्रेन्योर, कॉलेज के छात्रों शौकिया निवेशकों और अन्य लोगों के लिए एक चैलेंज रखा है. होस्टन में नासा के जॉनसन स्पेस सेंटर पर एडवांस्ड फूड टेक्नोलॉजी की प्रमुख वैज्ञानिक ग्रैस डगलस ने द जर्नल ऑफ न्यूट्रीशन के लेख में लंबे अंतरिक्ष अभियानों के लिए फूट तकनीकी की जरूरतों की रूपरेखा बताई. डगलस और उनके सहलेखकों के मुताबिक सबसे अहम मुद्दा जीवन कायम रखना होगा. मानव इतिहास में खोजकर्ताओं ने यह देखने लिए यात्राएं की हैं कि क्षितिज के आगे क्या है, लेकिन लाखों लोग वास्तव में आहार और पोषण की नाकामी की वजह से नहीं लौट पाए.

हमें Support करें।

हमें इस पोर्टल को चलाये रखने और आपकी आवाज को प्रशासन तक पहुंचने के लिए आपकी सहायता की जरुरत होती है। इस न्यूज़ पोर्टल को लगातार चलाये रखने के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करके हमें सब्सक्राइब कर हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Subscribe
Phone Panchayat

Check Also

आखिर यह कौन सी विचारधारा है जो मुसलमानों को मस्जिद में चैन से नमाज भी नहीं पढऩे देती। अफगानिस्तान में लगातार दूसरे शुक्रवार को शिया समुदाय की मस्जिदों में बम विस्फोट।

आखिर यह कौन सी विचारधारा है जो मुसलमानों को मस्जिद में चैन से नमाज भी नहीं पढऩे देती। अफगानिस्तान में लगातार दूसरे शुक्रवार को शिया समुदाय की मस्जिदों में बम विस्फोट।

आखिर यह कौन सी विचारधारा है जो मुसलमानों को मस्जिद में चैन से नमाज भी …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com