Indian Railways : मैकेनिकल इंजीनियर ने किया यार्ड और वर्कशॉप का निरीक्षण

Indian Railways : मैकेनिकल इंजीनियर ने किया यार्ड और वर्कशॉप का निरीक्षण

Kota Rail News : मुख्य मैकेनिकल इंजीनियर (सीएमई) आरएस सक्सेना अपने एक दिवसीय दौरे पर बुधवार को कोटा पहुंचे। यहां पर सक्सेना ने रेलवे यार्ड और माल डिब्बा मरम्मत कारखाना (वर्कशॉप) का गहन निरीक्षण किया।
यार्ड में सक्सेना ने दुर्घटना मेडिकल वाहन, पिटलाइन, सिकलाइन, मालगाड़ी और सवारी गाड़ी के रखरखाव की जगभह तथा स्टोर आदि का निरीक्षण किया। पैसेंजर ट्रेन के रखरखाव वाली जगह पर सक्सेना ने डी-2 शेड्यूल के अनुसार काम नहीं होने पर अपनी नाराज़गी भी जताई। निरीक्षण के दौरान सक्सेना ने कर्मचारियों से सामान की कमी की जानकारी देने और समस्या भी बताने को कहा।
इसी तरह सक्सेना ने वर्कशॉप में बॉडी रिपेयर, लिफ्टिंग, पेंट और व्हील सहित विभिन्न शॉप का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान सक्सेना ने आउट टर्न बढ़ाने और लागत में कमी लाने के विशेष निर्देश भी दिए।
कर्मचारी संगठनों ने सौंपे ज्ञापन
निरीक्षण के बाद विभिन्न कर्मचारी संगठनों ने सक्सेना को अपनी मांगों के ज्ञापन सौंपे।
रेलवे एंप्लाइज यूनियन ने वैगन के होल्डिंग को बढ़ाने, एक ही स्थान पर अंडर गियर का कार्य एवं पेंटिंग नहीं करने, पेंट शॉप के कार्य को ठेके पर देना बंद करने, रेलवे आवासों की दशा सुधारने तथा अस्पताल में गायनिक स्पेशलिस्ट की नियुक्ति की मांग की।
इसी तरह मजदूर संघ ने कॉलोनी में बार-बार लाइट बंद होने का मुद्दा उठाते हुए वर्कशॉप में पुराने शेडों की मरम्मत तथा बारिश का पानी नहीं भरने देने की व्यवस्था करने की मांग की।
ज्ञापन सौंपने वालों में यूनियन शाखा अध्यक्ष घनश्याम मीणा, सचिव अरविंद सिंह, प्रशांत तथा कार्यकारी अध्यक्ष पीयूष मौर्या आदि थे।
इसी तरह मजदूर संघ के शाखा सचिव लेखराज पांडे, कार्यकारी अध्यक्ष बृजमोहन मीणा तथा सह सचिव राजेश मीणा और अनुप शर्मा शामिल थे।

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें