महाशिवरात्रि मेले के नाम पर अश्लील कार्यक्रम का आयोजन

महाशिवरात्रि मेले के नाम पर अश्लील कार्यक्रम का आयोजन, जनप्रतिनिधियों ने जताई नाराजगी।

Baran : महाशिवरात्रि मेले के नाम पर अश्लील कार्यक्रम का आयोजन, जनप्रतिनिधियों ने जताई नाराजगी।

राजस्थान के बारां जिले में हुए महाशिवरात्रि के पांच दिनों के कार्यक्रम को लेकर अब विवाद शुरू हो गया है। कार्यक्रम में विदेशों से मंगाई गई लड़कियों के डांस करने के बाद छाबड़ा नगरपालिका के चेयरमैन पर कई सवाल उठने लगे हैं। जानकारी के मुताबिक कार्यक्रम में जमकर अश्लीलता परोसी गई। इस कार्यक्रम का एक वीडियो भी सामने आया, जिसमें विदेशों से मंगाई गई युवतियां डांस कर रही है। वहीं छबड़ा ब्लॉक कांग्रेस के अध्यक्ष ने धार्मिक आयोजन के नाम पर अश्लील डांस मामले में नाराजगी जताई है।

कांग्रेस ने नगर पालिका पर लगाए संगीन आरोप
जानकारी के मुताबिक यह आयोजन नगरपालिका ने किया था। इसमें सैकड़ों की संख्या में महिला और पुरुष शामिल थे। महाशिवरात्रि पर नगर पालिका द्वारा पहले भजन संध्या और रंगारंग कार्यक्रम कराए गए। इसके साथ ही सांस्कृतिक कार्यक्रम में इवेंट कंपनी को कार्यक्रम की रूपरेखा सौंपी गई। इसी कार्यक्रम में बाहर से डांस कलाकारों को बुलाया गया था। इन डांसरों ने फिल्मी गानों पर अश्लील डांस किया। इसके साथ ही रशियन बेली और हरयाणवी डांसर की प्रमुख परफॉर्मेंस भी देखने को मिली।

यह भी पढ़ें :   एक मन्द बुद्धि युवक 4 दिन से डॉक्टर बन कर रहा ईलाज - बारां

नगर पालिका चेयरमैन ने कहा यह कांग्रेस की साजिश
कांग्रेस के आरोप पर भाजपा नगर पालिका छाबड़ा के चेयरमैन कैलाश चंद ने सफाई दी है। कार्यक्रम में अश्लील डांस को लेकर उन्होंने कहाकि इस कार्यक्रम में कई महिलाएं और युवतियां में बैठी थीं। अगर उन्हें डांस अश्लील लगता तो वह उठकर चली जाती। लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ, सभी ने कार्यक्रम का लुफ्त उठाया है। देर रात तक कार्यक्रम में हजारों की तादाद में भीड़ मौजूद थी। ऐसे में नगर पालिका चेयरमैन ने कार्यक्रम को लेकर उठे सवाल पर एक सोची समझी साजिश करार दिया।

आपको बता दें, कि महाशिवरात्रि पर नगर पालिका छबड़ा द्वारा नागेश्वर महादेव की डूंगरी पर मेले में अलग-अलग दिन भजन संध्या सहित रंगारंग कार्यक्रम कराए गए। इस सिलसिले में शुक्रवार रात सांस्कृतिक कार्यक्रम में इवेंट कंपनी ने डांस कलाकारों को बुलाया था।
आरोप है कि इसमें मनोरंजन के नाम पर फूहड़ता देखने को मिली। डांसरों ने फिल्मी गानों पर अश्लील डांस किया और जमकर ठुमके लगाए। रशियन बैले और हरियाणावी डांसर ने भी परफॉमेंस दी। पालिका में नेता प्रतिपक्ष मोहम्मद उमर खान का कहना है कि धार्मिक मेले में अच्छे कार्यक्रम होने चाहिए। वहां माताएं-बहनें बच्चे आते है। इस तरह के कार्यक्रमों से बचना चाहिए। लोगों में भी नाराजगी है। विश्व हिंदू परिषद के छबड़ा जिला अध्यक्ष संग्राम सिंह का कहना है कि धार्मिक मेले में ऐसे आयोजन नहीं होने चाहिए। यह हिन्दू संस्कृति-संस्कारों में नहीं है।

यह भी पढ़ें :   National News : अयोध्या, मथुरा, काशी (बनारस) के धार्मिक स्थलों से अजमेर की ख्वाजा साहब की दरगाह से तुलना नहीं की जा सकती।

 

यह भी देखें :   Gangapur City : करंट लगने से मजदूर की मौत के बाद शव राजकीय चिकित्सालय पहुंचाया गया | G News Portal

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें