Sikar : कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा पर जमीन हड़पने का लगा आरोप, परिवादी ने की सीबीआई जांच की मांग।

Sikar : कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा पर जमीन हड़पने का लगा आरोप,

परिवादी ने की सीबीआई जांच की मांग।

सीकर जिले के खेड़ी लक्ष्मणगढ़ की विमलेश देवी ने कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा पर उनकी 50 करोड़ रूपये की जमीन धोखे से हथियाने का आरोप लगाया है। इस मामले की सीबीआई से जांच कराने को लेकर बुधवार से धरने पर बैठे। पुलिस प्रशासन ने धरना देने वाली तीन महिलाओं और एक पुरुष को धमका कर हटा दिया गया। सीकर के कटराथल की रहने वाली विमलेश देवी खीचड़ ने बताया कि उनकी कटराथल में यूनिवर्सिटी के पास 11.50 बीघा जमीन है। जिसकी मार्केट वैल्यू 50 करोड़ रुपए है। यह जमीन उसके ससुर मोहनलाल खीचड़ ने अपने पोते हरदम को गिफ्ट की थी। जो कानूनी रूप से सही नहीं थी। ऐसे में पड़ोसी राकेश ने जमीन पर भैसों का लोन दिलवाने के नाम पर सीकर में एसपी ऑफिस के पीछे हरदम से साइन करवा लिए थे।

यह भी पढ़ें :   कृषि कानून व बढ़ती महंगाई के विरोध में युवा कांग्रेस सीकर के कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन

इसके बाद राकेश ने शीशराम, सुल्तान सहित कुछ साथियों के साथ मिलकर उस जमीन पर एक करोड़ 70 लाख का लोन ले लिया। जिसे ओवरड्यू करवाकर राकेश और उसके साथियों ने बैंक की कुर्की का डर दिखाया। लोन की राशि में से 1रुपए भी हरदम या विमलेश के पति महिपाल को नहीं दिया गया।राकेश और उसके साथी हरदम और महिपाल को कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष डोटासरा के घर पर ले गए। जहां डोटासरा ने कुछ दिनों के लिए जमीन अपने नाम करवाने की बात कही। जिसके बाद आरोपियों ने जमीन डोटासरा की पुत्रवधू मोनिका, शीशराम निवासी भादवासी और कुड़ली के रहने वाले मनोज आर्य समेत कुछ लोगों के नाम करवा दी।

यह भी पढ़ें :   मतगणना में विभिन्न प्रकोष्ठों में नियुक्त कार्मिक अपना प्रवेश पास 7 दिसम्बर तक प्राप्त कर लेवें-सीकर

विमलेश का आरोप है कि जमीन से करीब 1 करोड़ रूपये की मिट्टी भी इन लोगों ने बेच दी। जिसका भी एक रुपया उन्हें नहीं दिया गया। विमलेश का कहना है कि जब वह डोटासरा के घर पर गई तो वहां उसे धमकियां दी गई। मामले में विमलेश के परिवार ने जिला कलेक्टर को ज्ञापन देकर पुलिस में मामला दर्ज करवाने सहित मामले की सीबीआई जांच करवाने की मांग की है।