Acb Trap : टोंक उप पंजीयक कार्यालय निवाई का वरिष्ठ सहायक ( रीडर) 11,500 रुपये रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार

ACB Trap : टोंक उप पंजीयक कार्यालय निवाई का वरिष्ठ सहायक ( रीडर) 11,500 रुपये रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार

Acb Trap : टोंक उप पंजीयक कार्यालय निवाई का वरिष्ठ सहायक ( रीडर) 11,500 रुपये रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार

जयपुर, ए.सी.बी. मुख्यालय के निर्देश पर टोंक इकाई द्वारा कार्यवाही करते हुए कमलेश मीणा वरिष्ठ सहायक ( रीडर) कार्यालय उप पंजीयक- निवाई, जिला टोंक को परिवादी से 11,500 रुपये रिश्वत राशि लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है।
भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के महानिदेशक भगवान लाल सोनी ने बताया कि ए.सी.बी. की टोंक इकाई को परिवादी द्वारा शिकायत दी गई कि दो मकान की रजिस्ट्री राशि करीब 30 लाख रुपये करवाने की एवज में कुल राशि के आधा प्रतिशत कमीशन के हिसाब से कमलेश मीणा वरिष्ठ सहायक ( रीडर) कार्यालय उप पंजीयक- निवाई, जिला टोंक
द्वारा परिवादी से 15 हजार रुपये रिश्वत राशि मांग कर परेशान किया जा रहा है। जिस पर एसीबी, जयपुर केउपमहानिरीक्षक पुलिस सवाई सिंह गोदारा केसुपरवीजन में एसीबी टोंक इकाई की अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेश आर्य के नेतृत्वमें शिकायत का सत्यापन किया टीम द्वारा ट्रेप कार्यवाही करते हुयेकमलेश मीणा पुत्र सुखदेव मीणा निवासी लाड़पुरा कॉलोनी, टोडारायसिंह, जिला टोंक हाल वरिष्ठ सहायक ( रीडर) कार्यालय उप पंजीयक- निवाई, जिला टोंक को परिवादी से
11,500 रुपये की रिश्वत राशि लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है ।

यह भी पढ़ें :   Ajmer : मुगल शासन में ही गुरु तेग बहादुर ने स्वतंत्रता आंदोलन की शुरुआत कर दी थी। धर्मांतरण को भी रोका।

यह भी देखें :   Piloda : आस्था धाम लहकोड़ देवी के मंदिर को भी चोरों ने बनाया निशाना, ग्रामीणों में आक्रोश

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें