Dausa: प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए दिया पहला वेतन
Dausa: प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए दिया पहला वेतन

Dausa: प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए दिया पहला वेतन

Dausa: प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए दिया पहला वेतन –

Dausa: दौसा जिले के लालसोट के डूंगरपुर गांव के एक युवक ने सरकारी नौकरी प्राप्त करने के बाद मिले अपने पहले वेतन को जरूरतमंद विद्यार्थियों को प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए प्रदान किया है । शहर के ज्योतिबा फुले क्लासेज के निदेशक शंकर लाल जैतपुरिया ने बताया कि उनकी कोचिंग में अध्ययन करते रेलवे में चयनित होने वाले डूंगरपुर गांव निवासी कुन्दन लाल मीना पुत्र हरजीराम मीना का अभिनंदन किया गया। इस मौके पर कुन्दन मीना ने अपनी नौकरी का पहला वेतन 30 हजार 941 रुपए का चेक निर्धन व जरूरतमंद छात्रों को प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए संस्था को भेंट किया । और सभी छात्रों के लिए भोजन की व्यवस्था भी की। संस्था के निदेशक ने कुन्दन मीना को माला व साफा पहनाकर सम्मानित किया।
कुन्दन मीना ने बताया कि वह 2019 में ज्योतिबा फुले क्लासेज लालसोट से जुड़ा और निरंतर इसी कोचिंग से तैयारी कर रहा था। इसका पिताजी एक गरीब किसान है जो खेती करके परिवार का पालन पोषण करते है । छोटा भाई महेंद्र मीना का हाल ही में ldc के पद पर चयनित हुआ है ।
कुन्दन मीना ने इस सफलता का श्रेय अपने माता पिता और सभी गुरुजनों को दिया है , साथ ही बताया है कि संस्था के संस्थापक कृष्ण कुमार सैनी ने उनका बुरे समय में अच्छे से मार्गदर्शन किया जिसके चलते कुन्दन ने इस सफलता को हासिल किया है।

यह भी पढ़ें :   कार्य स्थलों पर सेनिटाइजेशन न कराने पर होगा 10 हजार रूपये का जुर्माना

कुन्दन एक गरीब परिवार से आता था और उसके पास इस संस्था में फीस जमा करने के भी पैसे नही थे लेकिन शंकर लाल जैतपुरिया ने उनको संस्था में प्रवेश देकर अध्ययन करवाया ।
और कुन्दन ने मेहनत करके रेलवे में चयन किया है।
साथ ही कुन्दन मीना ने बताया कि किसी भी गरीब छात्र की पढ़ाई फीस के कारण नही रुकनी चाहिए इसलिए उन्होंने इस संस्था को अपना पहला वेतन 30 हजार 941 रुपए इस संस्था को दिया ।