G News Portal , Page - 1 of 2245

केंद्रीय रसायन और उर्वरक मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया ने आगामी 12वें इंडिया केम-2022 की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की

  केंद्रीय रसायन और उर्वरक मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया ने आगामी 12वें इंडिया केम -2022 के आयोजन की योजना के लिए बैठक की अध्यक्षता की। इस वर्ष के आयोजन का विषय “विजन 2030-केम एंड पेट्रोकेमिकल्स बिल्ड इंडिया” है। बैठक में रसायन और उर्वरक राज्य मंत्री श्री भगवंत खुबा, रसायन और पेट्रोरसायन मंत्रालय में सचिव सुश्री आरती आहूजा भी फिक्की के सदस्यों और मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ उपस्थित थे। इस अवसर पर अपने संबोधन में डॉ. मनसुख मांडविया ने कहा, “यह आयोजन क्षेत्र में सतत विकास के लिए जबरदस्त क्षमता और सहायक सरकारी नीति का प्रदर्शन करेगा। यह प्रधानमंत्री …

Read More »

गुजरात के पोरबंदर में स्वदेशी उन्नत हल्के हेलिकॉप्टर एमके III स्क्वाड्रन को भारतीय तटरक्षक बल की सेवा में शामिल किया गया

banner

28 जून, 2022 को गुजरात के पोरबंदर स्थित एयर एन्क्लेव में 835 स्क्वाड्रन (सीजी) को भारतीय तटरक्षक बल की सेवा में शामिल किया गया। यह एक स्वदेशी उन्नत हल्का हेलीकॉप्टर (एएलएच) एमके III स्क्वाड्रन है। इस अवसर पर आयोजित समारोह की अध्यक्षता तटरक्षक बल के महानिदेशक (डीजी) श्री वी.एस. पठानिया ने की। वहीं, इस कार्यक्रम में पोरबंदर और गुजरात क्षेत्र के विभिन्न गणमान्य सैन्य और नागरिक व्यक्तियों ने हिस्सा लिया। इस स्क्वाड्रन को सेवा में शामिल करना प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के ‘आत्मनिर्भर भारत’ की सोच के अनुरूप खोज व बचाव (एसएआर) और समुद्री निगरानी के क्षेत्र में आत्मनिर्भरता प्राप्त …

Read More »

पुडुचेरी में पेंशन और पेंशनभोगी कल्याण विभाग द्वारा पेंशनभोगी जागरूकता कार्यक्रम आयोजित

banner

पेंशन और पेंशनभोगी कल्याण विभाग (डीओपी और पीडब्‍ल्‍‍यू) ने आज पुडुचेरी में पेंशनभोगी जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया। महामारी के बाद देश के दक्षिणी क्षेत्र को समाविष्ट करने वाला यह पहला फिजिकल कार्यक्रम है। चेन्नई और पुडुचेरी के पेंशनभोगी संघों के सहयोग से इस कार्यक्रम में चेन्नई और पुडुचेरी के 300 से अधिक पेंशनभोगियों ने भाग लिया। डीओपी और पीडब्‍ल्‍‍यू के अधिकारियों की एक टीम ने कें‍द्र सरकार के पेंशनभोगियों को पेंशन/पारिवारिक पेंशन मंजूरी के संबंध में पेंशन नीति में सुधार और डिजिटलीकरण पर सत्र लिया। इसका उद्देश्य सरकार की “जीवन को सुगम बनाने” की पहल के तहत किए गए परिवर्तनों …

Read More »

सफलता की गाथाः स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण में मासिक धर्म संबंधी स्वच्छता प्रबंधन

महाराष्ट्र का गढ़चिरौली जिला प्रशासन यूनीसेफ की मदद से इस क्षेत्र में एक मौन क्रांति ला रहा है, जहां वे मासिक धर्म के समय लड़कियों और महिलाओं को कुर्माघर या मासिक धर्म झोंपड़ी में भेजने की क्रूर प्रथा का क्रमशः उन्मूलन कर रहा है। स्थानीय गौंड और मादिया जनजातियों की किशोरियों और महिलाओं की पीड़ा को दूर करने के उद्देश्य से समाज की मानसिकता में बदलाव लाने के लिए प्रशासन 2018 से पूरी प्रतिबद्धता से कार्य कर रहा है और अब इसके नतीजे भी सामने आ रहे हैं। इन किशोरियों और महिलाओं को मासिक धर्म के समय बहुत सी सामाजिक, …

Read More »

प्रधानमंत्री ने पीवी नरसिम्हा राव की जयंती पर उनके योगदान को याद किया

banner

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री श्री पीवी नरसिम्हा राव को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि दी है।   प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया: “हमारे पूर्व प्रधानमंत्री श्री पीवी नरसिम्हा राव जी को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि। राष्ट्रीय प्रगति में उनके समृद्ध योगदान के लिए भारत उनका आभारी है। उन्होंने एक विद्वान और बुद्धिजीवी के रूप में भी अपनी पहचान बनाई।”          ***  एमजी/एएम/जेके/सीएस                 

Read More »

केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह ने आज नई दिल्ली से वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के ज़रिए द गुजरात स्टेट को-ऑपरेटिव एग्रीकल्चर एंड रूरल डेवलपमेंट बैंक लि. (खेती बैंक) की अहमदाबाद में आयोजित 70वीं AGM को संबोधित किया

केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह ने आज नई दिल्ली से वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के ज़रिए द गुजरात स्टेट को-ऑपरेटिव एग्रीकल्चर एंड रूरल डेवलपमेंट बैंक लि. (खेतीबैंक)की अहमदाबाद में आयोजित 70 वीं AGMको संबोधित किया।   श्री अमित शाह ने कहा कि द गुजरात स्टेट को-ऑपरेटिव एग्रीकल्चर एंड रूरल डेवलपमेंट बैंक लि. जिसे खेती बैंक कहते हैं, उसकी स्थापना 1951 में हुईऔर उस वर्ष में इसकी स्थापना का ऐतिहासिक महत्व भी है। सौराष्ट्र और काठियावाड़ में उस वक़्त लगभग 222 छोटे-छोटे रजवाडे थे और समग्र सौराष्ट्र की जमीन राजों-रजवाडों के नाम पर थी। किसान राजा के लिए जमीन जोतते …

Read More »

“सांख्यिकी दिवस” 29 जून, 2022 को मनाया जाएगा

banner

सांख्यिकी और आर्थिक नियोजन के क्षेत्र में प्रोफेसर (दिवंगत) प्रशांत चंद्र महलनोबिस के किए गए उल्लेखनीय योगदान के सम्मान में भारत सरकार ने उनकी जयंती के अवसर पर प्रत्येक वर्ष 29 जून को “सांख्यिकी दिवस” ​​के रूप में नामित किया है जिसे राष्ट्रीय स्तर पर मनाए जाने वाले विशेष दिवसों की श्रेणी में रखा गया है। इस दिवस का उद्देश्य सामाजिक-आर्थिक योजना और नीति निर्धारण में सांख्यिकी की भूमिका और इसके महत्व के बारे में प्रोफेसर (दिवंगत) महलनोबिस से प्रेरणा लेने के लिए विशेष रूप से युवा पीढ़ी में जन जागरूकता पैदा करना है। इस वर्ष सांख्यिकी दिवस, 2022 का …

Read More »

1 जुलाई 2022 से चिन्हित एकल उपयोग वाली प्लास्टिक वस्तुओं पर प्रतिबंध

banner

भारत के माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा 2022 तक एकल उपयोग वाली प्लास्टिक वस्तुओं को समाप्त करने के लिए दिए गए स्पष्ट आह्वान के अनुरूप, भारत सरकार के पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय ने 12 अगस्त 2021 को प्लास्टिक अपशिष्ट प्रबंधन संशोधन नियम, 2021 को अधिसूचित किया। ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ की भावना को आगे बढ़ाते हुए, देश द्वारा कूड़े एवं अप्रबंधित प्लास्टिक कचरे से होने वाले प्रदूषण को रोकने के उद्देश्य से एक निर्णायक कदम उठाया जा रहा है। भारत 1 जुलाई, 2022 से पूरे देश में चिन्हित एकल उपयोग वाली प्लास्टिक वस्तुओं, जिनकी उपयोगिता कम और …

Read More »

श्री भगवन्त खुबा ने एसईसीआई कार्यालय का दौरा किया

नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा तथा रसायन एवं उर्वरक राज्यमंत्री श्री भगवन्त खुबा ने गत 24 जून को एसईसीआई कार्यालय का दौरा किया। श्री खुबा ने वहां एसईसीआई के वरिष्ठ अधिकारियों से भारतीय नवीकरणीय ऊर्जा (आरई) क्षेत्र और भारत की सीओपी-26 संबंधी प्रतिबद्धताओं के बारे में विचार-विमर्श किया। श्री खुबा को एसईसीआई की जारी मौजूदा गतिविधियों के साथ ही बैटरी स्टोरेज, आरई टेंडर्स, ई-मोबिलिटी, एग्रो पीवी, ग्रीन हाइड्रोजन और कचरे से ऊर्जा बनाने जैसी नई पहलों के बारे में बताया गया। इन पहलों से राष्ट्रीय लक्ष्यों को तेजी से हासिल करने में मदद मिलेगी। एसईसीआई के दल को राज्यमंत्री श्री खुबा …

Read More »

इस्पात मंत्रालय राष्ट्रीय गतिशक्ति पोर्टल पर

इस्पात मंत्रालय ने भास्कराचार्य राष्ट्रीय अंतरिक्ष अनुप्रयोग और भू-सूचना विज्ञान संस्थान (बीआईएसएजी-एन) की मदद से पीएम गतिशक्ति पोर्टल (नेशनल मास्टर प्लान पोर्टल) पर खुद को शामिल किया है। इसने इस्पात मंत्रालय के प्रशासनिक नियंत्रण के तहत सीपीएसई के सभी इस्पात संयंत्रों के जियो लोकेशन को अपलोड करके डेटा का पहला चरण तैयार किया है। इस्‍पात मंत्रालय अपने प्रशासनिक नियंत्रणाधीन इन सीपीएसई की सभी खानों के जियो लोकेशन को भी अपलोड करने की प्रक्रिया में है। बीआईएसएजी-एन ने एक एप्लिकेशन बनाया है जिसके माध्यम से इस्पात मंत्रालय देश में कार्यरत दो हजार से अधिक स्टील इकाइयों (बड़े खिलाड़ियों सहित) के जियो …

Read More »