fbpx
सोमवार , अक्टूबर 25 2021
Breaking News
Phone Panchayat

सेवानिवृत्ति में 5 महीने रह गए बाकी, इसके बावजूद पदोन्नति पर कर दिया स्थानांतरण-गंगापुर सिटी

सहायक मंडल इंजीनियर की तानाशाही कर्मचारी की सेवानिवृत्ति में 5 महीने रह गए बाकी, इसके बावजूद पदोन्नति पर कर दिया स्थानांतरण-गंगापुर सिटी

रेलवे बोर्ड के निर्देशानुसार जिन कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति में 2 वर्ष से कम का समय रह गया है। उन्हे यदि पदोन्नत किया जाना है। तब उन्हें उनकी कार्यस्थल पर ही पदोन्नति दी जाएगी इसके चलते कोटा मंडल सहित भारतीय रेल में सभी जगह पर इसी प्रकार से पदोन्नति आदेश जारी होते रहे हैं।लेकिन गंगापुर सिटी में अभी हाल में गत समय में वरिष्ठ खंड इंजीनियर रेल पथ के पद पर कार्य करते हुए कर्मचारियों के बीच में तानाशाह के रूप में सहायक मंडल इंजीनियर के पद पर पदोन्नत होकर आसीन हुए हैं। उन्होंने आते से ही फिर से अपना तानाशाही व्यवहार कर्मचारियों के प्रति चालू कर दिया है।
अभी हाल में 5 फरवरी को उन्होंने ट्रैक मैन 2800 ग्रेड पे के पदोन्नति आदेश जारी किए हैं जिसमें वरिष्ठ खंड इंजीनियर उत्तर गंगापुर सिटी के अधीन कार्यरत सत्यनारायण एम ट्रैक मैन जिसके की अभी 5 महीने सेवानिवृत्ति में रह गए को छोटी उदई एवं चिम्मनन ट्रैक मैन को जिसके 14 महीने रेल सेवा में रह गए। पदोन्नति पर रेलवे स्टेशन पर पोस्टिंग आदेश जारी किए हैं। यही नहीं कर्मचारियों को भयभीत कर रिलीव करने का दबाव बनाया जा रहा है। अब कर्मचारी न्याय के लिए मान्यता प्राप्त यूनियन के पास जाने को मजबूर है।अभी हाल में वरिष्ठ खंड इंजीनियर रेल पथ उत्तर गंगापुर सिटी से 31 जनवरी को सेवानिवृत्त हुए ट्रैक मैन ग्रेड पे 2400, रशीद खान ने बताया कि गत 30 दिसंबर को ट्रैक मैन ग्रेडपे 2800 ग्रेड पे मैं पदोन्नति के लिए सेलेक्ट सूची मंडल कार्यालय द्वारा जारी कर दी गई थी लेकिन सहायक मंडल इंजीनियर की लापरवाही के कारण यह आदेश 5 फरवरी को जारी हो सके इस बीच में उनकी सेवानिवृत्ति हो गई और वह पदोन्नति से वंचित हो गए। इससे उन्हें जिंदगी भर आर्थिक नुकसान झेलना पड़ेगा। वही वेस्ट सेन्ट्रल रेलवे एम्पलाइज यूनियन के मंडल उपाध्यक्ष नरेन्द्र जैन व मंडल सह सचिव राजू लाल गुर्जर ने सहायक मंडल इंजीनियर मलखान सिंह मीणा पर आरोप लगाया कि रेलवे बोर्ड के निर्देश  की पालना नहीं की जा रही है। उनका कहना है कि जिनके दो वर्ष के कम समय सेवानिवृत रह गए उनके कार्य स्थल ही पदउन्नति दी जावे। लेकिन सह आदेश सरासर गलत है। यूनियन इसके लिए आगे की रणनीति तय करके मामले को गभीरता से लिया जाएगा।

हमें Support करें।

हमें इस पोर्टल को चलाये रखने और आपकी आवाज को प्रशासन तक पहुंचने के लिए आपकी सहायता की जरुरत होती है। इस न्यूज़ पोर्टल को लगातार चलाये रखने के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करके हमें सब्सक्राइब कर हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Subscribe
Phone Panchayat

Check Also

गंगापुर शहर अपना है नगर परिषद के सभी वार्डो में रहने वाले नागरिक भी अपने हैं।-सभापति

गंगापुर शहर अपना है नगर परिषद के सभी वार्डो में रहने वाले नागरिक भी अपने …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com