fbpx
बुधवार , अक्टूबर 27 2021
Breaking News
Phone Panchayat

निष्पक्ष जांच के लिए प्रधानाचार्य का जिले से बाहर होगा पदस्थापन – तकनीकी शिक्षा राज्य मंत्री

निष्पक्ष जांच के लिए प्रधानाचार्य का जिले से बाहर होगा पदस्थापन – तकनीकी शिक्षा राज्य मंत्री
 तकनीकी शिक्षा राज्य मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग ने शुक्रवार को विधानसभा में कहा कि ब्यावर के किशनपुरा स्थित राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय के प्रधानाचार्य के विरूद्ध गबन की शिकायत की निष्पक्ष जांच के लिए उन्हें जिले से बाहर पदस्थापित किया जायेगा।
डॉ. गर्ग प्रश्नकाल में विधायकों द्वारा इस संबंध में पूछे गये पूरक प्रश्नों का जवाब दे रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रधानाचार्य के विरूद्ध गबन की शिकायत प्राप्त होने पर मामले की जांच जिला शिक्षा अधिकारी तथा सचिव द्वारा करवाई गई है, जिसमें कुछ आरोप सत्य पाये गये हैं। प्रधानाचार्य को 16 सीसीए के तहत चार्जशीट दी गई है तथा जांच के पश्चात् जो भी निर्णय होगा राजस्थान सेवा नियमों के तहत कार्यवाही की जाएगी।
इससे पहले विधायक श्री शंकर सिंह रावत के मूल प्रश्न के लिखित जवाब में डॉ. गर्ग ने बताया कि विधानसभा क्षेत्र ब्यावर (अजमेर) के राउमावि, किशनपुरा के प्रधानाचार्य पद पर कार्यरत श्री शिवकुमार दुबे के विरूद्ध विभाग को शिकायत 10 जून 2020 को प्राप्त हुई। प्राप्त शिकायत की जांच करने हेतु मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी, जवाजा, अजमेर के पत्र 11 जून 2020 द्वारा प्रधानाचार्य, राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय, टॉटगढ (जवाजा), अजमेर को जांच अधिकारी नियुक्त किया गया। निदेशालय, माध्यमिक शिक्षा राजस्थान, बीकानेर ने 3 जुलाई 2020 द्वारा श्री शिवकुमार दुबे को निलम्बित किया गया।
उन्होंने बताया कि निदेशालय, माध्यमिक शिक्षा राजस्थान, बीकानेर ने जांच प्रतिवेदन के आधार पर श्री शिवकुमार दुबे, प्रधानाचार्य राउमावि किशनपुरा के विरूद्ध राजस्थान सिविल सेवा वर्गीकरण, नियंत्रण एवं अपील नियम 1958 के नियम-16 के अन्तर्गत दिनांक 14 सितम्बर 2020 को ज्ञापन, आरोप पत्र, आरोप विवरण पत्र जारी किया जाकर आदेश दिनांक 6 नवम्बर 2020 द्वारा मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी, अजमेर को जांच अधिकारी एवं मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी, जवाजा, अजमेर को विभागीय जांच में उपस्थापक अधिकारी नियुक्त किया जा चुका है। प्रकरण में विभागीय जांच प्रतिवेदन प्राप्त होने पर गुणावगुण के आधार पर श्री शिवकुमार दुबे के विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही की जा सकेगी।
उन्होंने बताया कि श्री शिवकुमार दुबे, प्रधानाचार्य राउमावि, किशनपुरा (ब्यावर) अजमेर को किसी प्रकार की पदोन्नति नहीं दी गई है अपितु प्रकरण में जांच विचाराधीन रखते हुए निदेशालय माध्यमिक शिक्षा बीकानेर के आदेश दिनांक 12 नवम्बर 2020 द्वारा निलम्बन से बहाल किया गया तथा आदेश दिनांक 20 नवम्बर 2020 द्वारा श्री दुबे का पदस्थापन आदेशों की प्रतिक्षा से राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय, नीमगढ-मसूदा, अजमेर में प्रधानाचार्य के पद पर पदस्थापन किया गया है। उन्होंने कहा कि प्रधानाचार्य को जांच विचाराधीन रखते हुए बहाल किया गया है। अतः किसी कार्मिक के विरूद्ध कार्यवाही किये जाने का प्रकरण नहीं बनता है।

हमें Support करें।

हमें इस पोर्टल को चलाये रखने और आपकी आवाज को प्रशासन तक पहुंचने के लिए आपकी सहायता की जरुरत होती है। इस न्यूज़ पोर्टल को लगातार चलाये रखने के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करके हमें सब्सक्राइब कर हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Subscribe
Phone Panchayat

Check Also

प्रशासन शहरों के संग अभियान-2021 नगरीय विकास विभाग के प्रमुख शासन सचिव ने किया भीलवाड़ा जिले में शिविरों का निरीक्षण

Description प्रशासन शहरों के संग अभियान-2021नगरीय विकास विभाग के प्रमुख शासन सचिव ने किया भीलवाड़ा …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com