fbpx
सोमवार , दिसम्बर 6 2021
Breaking News
SLSA Fashion
लालसोट-बूढे मॉ- बाप की कौन सुनेगा फरियाद ? दो साल से गुमशुदा है युवक बुद्धिप्रकाश ।

लालसोट-बूढे मॉ- बाप की कौन सुनेगा फरियाद ? दो साल से गुमशुदा है युवक बुद्धिप्रकाश ।

लालसोट-बूढे मॉ- बाप की कौन सुनेगा फरियाद ?
दो साल से गुमशुदा है युवक बुद्धिप्रकाश ।
अपने लाल को देखने के लिए तरस गई है बूढे मॉ- बाप की आंखें।
बार – बार रोने से आंखों के आंसू भी सूखने लगे है
उद्योग मंत्री परसादीलाल मीना से भी मिली दुत्कार
अब बूढे मॉ- बाप लालसोट एसडीएम कार्यालय पर बैठे धरने पर ।
राज्य सभा सांसद डॉॅ किरोड़ी मीना भी पहुंचे लालसोट ।
कहा पुलिस मामले को करे री ओपन
बड़े आंदोलन की दी चेतावनी ।
लालसोट- कहते है बुढापे में मॉ – बाप के लिए उनकी लाठी यानी सहारा उनकी औलाद ही होती है, लेकिन जब बुढापे में औलाद को देखने के लिए मॉ-बाप की आंखे ही तरस जाए तो उससे बड़ी पीड़ा क्या होगी। कुछ यही कहानी है दौसा जिले के लालसोट उपखण्ड के कर्णपुरा गांव निवासी वृद्ध मीठालाल मीना व उनकी पत्नी ज्ञाना देवी की। मीठालाल मीना का जवान बेटा दो साल पहले अपने एक रिश्तेदार के साथ कमाने के लिए महाराष्ट्र के पुणे गया था, लेकिन वहां से आज तक नही लौट कर नही आया, कोई खैर खबर भी नही है, वह कहा है, किस हाल में है, जिंदा है या किसी ने मार दिया। बूढा बाप नेताओं से लेकर पुलिस अधिकारियों के यहां हाजरी लगा कर थक चुका है। जब लालसोट पुलिस ने भी उसकी प्राथमिकी दर्ज नही की तो उसने मजबूर हो कर कोर्ट के जरिए प्राथमिकी दर्ज कराई। जिसके बाद भी पुलिस ने उसके बाद भी उसके लाल को ढूढने के बजाए एफआर लगा कर पूरे मामले को ही दफ्तार दाखिल कर दिया। मामले में दो दिन पूर्व उस वक्त एक नया मोड़ आया जब पीडि़त वृद्ध क्षेत्र के विधायक व उद्योग मंत्री परसादीलाल मीना के पास अपनी पीड़ा को लेकर पहुंचा। इस दौरान उद्योग मंत्री ने कहा कि वे दो बार पुणे के पुलिस कमीश्नर से इस बारे में कह चुके है, पुलिस भी एफआर चुकी है, वे कुछ नही कर सकते है। पीडि़त वृद्ध का आरोप है कि उद्योग मंत्री ने उसकी पीड़ा सुनने के बजाए बदसलूकी करते हुए उसे धक्के मार कर वहां से भगा दिया। इस पूरी घटना के वीडियो जब सोशल मीडिया पर वायरल हुए मामले ने बड़ा रुप धारण कर लिया। हालाकि उद्योग मंत्री का कहना है कि उन्होंने किसी भी तरह का बदसलूकी नही की है। पीडि़त वृद्ध मॉ- बाप गुरुवार शाम को अपने बेटे को सही सलामत घर लाने की मांग को लेकर दर्जनों युवाओं के साथ लालसोट के एसडीएम कार्यालय पर धरने पर बैठे गए और बेटे के बारे में कोई भी जानकारी नही मिलने पर आत्म हत्या की भी चेतावनी दे डाली। इस दौरान राज्यसभा सांसद डॉ. किरोड़ीलाल मीना भी धरना स्थल पहुंचे, जहां वृद्ध पिता सुबकते हुए डॉ. मीना को अपनी आपबीती सुनाई, जिसके बाद सांसद ने उन्हे सात्वंना दी और उद्योग मंत्री के बर्ताव की निंदा की। जिसके बाद वे माता पिता के साथ डिप्टी एसपी कार्यालय पर पहुंचे। इस दौरान डॉ. मीना ने डिप्टी एसपी से कहा कि पुलिस ने आखिर कैसे इस मामले में एफआर लगा दी है, पुलिस मामले को दोबारा री ओपन करें और गुमशुदा युवक की तलाश करें। डॉ. किरोड़ी मीना ने कहा कि वे इस मामले को लेकर आगामी 22 नवम्बर को लालसोट में पूरे विधानसभा क्षेत्र के हजारों लोगों के साथ आंदोलन करेंगें।

हमें Support करें।

हमें इस पोर्टल को चलाये रखने और आपकी आवाज को प्रशासन तक पहुंचने के लिए आपकी सहायता की जरुरत होती है। इस न्यूज़ पोर्टल को लगातार चलाये रखने के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करके हमें सब्सक्राइब कर हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Subscribe
SLSA Fashion

Check Also

मणिपुर में उग्रवादियों के हमले में शनिवार सुबह शहीद हुए दौसा के बेटे के गांव में गमगीन है माहौल

मणिपुर में उग्रवादियों के हमले में शनिवार सुबह शहीद हुए दौसा के बेटे के गांव में गमगीन है माहौल

दौसा। मणिपुर में उग्रवादियों के हमले में शनिवार सुबह शहीद हुए दौसा के बेटे राजेंद्र …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com