रावजयमलराठौड़कीवींजयंतीपरमेडतामेंहुआभव्यकार्यक्रम

राव जयमल राठौड़ की 514 वीं जयंती पर मेडता में हुआ भव्य कार्यक्रम

राव जयमल राठौड़ की 514 वीं जयंती पर मेडता में हुआ भव्य कार्यक्रम
राजसमन्द 16 अक्टूबर। सांसद दीयाकुमारी ने कहा कि राव जयमल का भारत के गरिमामय इतिहास में महत्वपूर्ण स्थान है। शौर्य और बलिदान उनकी महानता का परिचायक है। इस देश को ऐसे ही महान रक्षकों की आवश्यकता है, जिनमें मन में कूट कूट कर राष्ट्र के प्रति समर्पण का भाव समाहित हो। वर्तमान की युवा पीढ़ी को राव जयमल के व्यक्तित्व से प्रेरणा लेने की आवश्यकता है।
वीर शिरोमणि राव जयमल राठौड़ की 514 वीं जयंती के अवसर पर चतुर्भुज शिक्षा समिति मेड़ता की ओर से आयोजित कार्यक्रम में भाग लेते हुए सांसद दीयाकुमारी ने यह बात कही। कार्यक्रम के दौरान राजस्थान प्रशासनिक सेवा में चयनित प्रतिभाओं का स्वागत सम्मान भी किया।
कार्यक्रम में चतुर्भुज शिक्षा समिति के अध्यक्ष दिलीप सिंह बछवारी, सचिव हनुमान सिंह रासलीयावास, राजसमन्द के पूर्व सांसद गोपाल सिंह ईड़वा, समाजसेवी लोकेंद्र सिंह कालवी, वीरमदेव सिंह जैसास, भैरुन्दा प्रधान जसवंत सिंह थाटा, महेशपाल सिंह, अभय सिंह भैंसड़ा, संदीप प्रधान मेड़ता, पूर्व प्रधान भंवर सिंह नोखा चांदावता सहित शहर के प्रबुद्ध गण उपस्थित रहे।

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें