fbpx
Breaking News

एनजीटी के निर्देशों की पालना सुनिश्चित की जाए

एनजीटी के निर्देशों की पालना सुनिश्चित की जाए
सवाई माधोपुर  एनजीटी द्वारा पारित निर्णयों की पालना के लिये गठित जिला स्तरीय समिति की बैठक सोमवार को जिला कलेक्टर राजेन्द्र किशन की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट में आयोजित हुई।
कलेक्टर ने दोनों नगरपरिषद क्षेत्रों में प्रतिबंधित पॉलीथिन जब्त करने की कार्रवाई में तेजी लाने के निर्देश दिये। इसके तहत पॉलीथिन के होल सेल विक्रेताओं पर विशेष ध्यान दिया जाये। कलेक्टर ने प्रदूषण फैलाने वाले नाकारा वाहनों, आबादी क्षेत्र में नियम विरूद्ध हॉर्न बजाने वालों के विरूद्ध कार्रवाई करने, निजी और सरकारी अस्पतालों के कचरा निस्तारण में पूर्ण सावधानी बरतने के निर्देश दिये। उन्होंने खनिज लीज का उल्लंघन करने पर कार्रवाई के निर्देश दिये हैं। लीज में निर्धारित स्थान की लीजधारी द्वारा पत्थरगढी या तारबंदी करवाने तथा निर्धारित स्थान के बाहर या निर्धारित गहराई से ज्यादा खनन करने पर सख्त कार्रवाई के निर्देष दिये। लीजधारी को निर्धारित स्थान पर निश्चित संख्या में पौधे लगाकर उनकी देखभाल करनी होती है। इस कार्य का सत्यापन करने के खनिज अभियन्ता को निर्देश दिये। बजरी के अवैध खनन और परिवहन को रोकने के लिये की गई कार्रवाई की भी समीक्षा की।
जिला परिषद के प्रतिनिधि ने बताया कि आदर्श ग्राम पंचायत बहरावण्डा खुर्द के सम्बंध में पॉंचों बिन्दुओं की पालना में कार्य पूर्ण हो चुके हैं, इसी प्रकार चैथ का बरवाडा एवं श्यामपुरा में कार्य सम्बंधी डीपीआर के बारे में हुई प्रगति की रिपोर्ट दी गई। जिले की 172 ग्राम पंचायतों में ठोस और तरल कचरा प्रबंधन की डीपीआर तैयार प्रक्रियाधीन है।
सवाई माधोपुर नगरपरिषद अधिशाषी अभियन्ता ने सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्रोसेसिंग फेसिलिटी की प्रगति की जानकारी दी। सवाई माधोपुर शहर से 5 टन प्लास्टिक कचरा रिसाईकल करने के लिये लाखेरी भेजा गया है। सूरवाल में सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट के ट्रीटेड पानी का उपयोग कृषि विज्ञान केन्द्र द्वारा किया जा रहा है। गंगापुर सिटी के कचरे को संग्रहित और निस्तारित करने के लिये दौलतपुर स्थित कचरागाह में एमआरएफ के निर्माण कार्य की प्रगति समीक्षा की गई। गंगापुर में कम्पोस्टिंग मशीन लगाने की कार्य प्रगति की भी समीक्षा की। इसी प्रकार सामान्य चिकित्सालय एवं अन्य अस्पतालों में बायो मेडिकल वेस्ट मेनेजमेंट के संबंध में जानकारी दी गई।
एनजीटी के आदेशानुसार रामेश्वर घाट पर चम्बल तथा अन्य स्थानों पर बनास, मोरेल, जीवद और ढील से निरन्तर सैम्पल लेकर लैब टेस्टिंग की जा रही है। गत माह तक लिये गये सैम्पलों की प्रदूषण नियन्त्रण मण्डल से जॉंच रिपोर्ट आ चुकी है। बैठक में जिला पर्यावरण योजना के संबंध में प्रगति रिपोर्ट की समीक्षा भी की गई।
बैठक में खनिज विभाग, वन विभाग से जुडे बिन्दुओं पर चर्चा कर प्रस्तावों की पालना के संबंध में निर्देश दिए। बैठक में डीएमएफटी के उपलब्ध बजट एवं जैव विविधता समिति के गठन के संबंध में भी चर्चा की गई। बैठक में एडीएम भवानी सिंह पंवार, जिला परिषद के सीईओ सुरेष कुमार, एसडीएम कपिल शर्मा, डीएफओ जयराम पांडे, सीएमएचओ डॉ. तेजराम मीना, पीएमओ डाॅ बीएल मीना, एसई पीएचईडी सीताराम मीना, नगर परिषद आयुक्त रविन्द्र यादव, जिला उद्योग केन्द्र, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के प्रतिनिधि सहित अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

हमें Support करें।

हमें इस पोर्टल को चलाये रखने और आपकी आवाज को प्रशासन तक पहुंचने के लिए आपकी सहायता की जरुरत होती है। इस न्यूज़ पोर्टल को लगातार चलाये रखने के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करके हमें सब्सक्राइब कर हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Subscribe

Check Also

शिक्षा विभाग में 60 हजार पदों पर होगी भर्ती बेरोजगारों को मिलेगा रोजगार

शिक्षा विभाग में 60 हजार पदों पर होगी भर्ती,बेरोजगारों को मिलेगा रोजगार

राज्य सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं से लाभान्वित होएं – शिक्षा राज्य मंत्री शिक्षा विभाग …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com