fbpx
सोमवार , अक्टूबर 25 2021
Breaking News
Phone Panchayat
वैक्सीन का 10 का ग्रुप फिर अधूरा,सांतवे दिन की सूची से नहीं आए कार्मिक,13 डोज और खराब अब तक 42 डोज हुई खराब-गंगापुर सिटी

वैक्सीन का 10 का ग्रुप फिर अधूरा,सांतवे दिन की सूची से नहीं आए कार्मिक,13 डोज और खराब अब तक 42 डोज हुई खराब-गंगापुर सिटी

वैक्सीन का 10 का ग्रुप फिर अधूरा,सांतवे दिन की सूची से नहीं आए कार्मिक,13 डोज और खराब अब तक 42 डोज हुई खराब-गंगापुर सिटी
कोविड 19 वैक्सीनेशन के दौरान वैक्सीन डोज को डैमेज नहीं से बचाने के लिए सरकार ने सख्त आदेश दिए है, बावजूद इसके जिला चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग गंभीर नजर नहीं आ रहा है। बुधवार को विभिन्न बूथों पर 13 डोज डैमेज कर दी। यानी अब तक 42 डौज डैमेज हो चुकी है। बुधवार को सांतवे दिन लगभग6 केन्द्रों पर वैक्सीनेशन के टीका लगाया गया। लेकिन कार्मिक के नहीं आने से 13 डोज फिर से खराब हो जाने के बाद उसे फैकनी पड़ी। जबकि 6& केन्द्रों पर 711 का टारगेट था। इनमें से 247 लगवाई। इस तरह से 34.74 प्रतिशत लोगों ने वैक्सीन का टीका लगवाया गया। जबकि अब तक कुल 1008 लोगों के वैक्सीन का टीका लग चुका है।वैक्सीन डोज को डैमेज होने से बचाने के लिए राज्य सरकार ने सभी जिलों को सख्त निर्देश दिए है कि अगर किसी सेंटर पर वैक्सीन के लिए लोगों की संख्या 10 के गुणा में नहीं आ रहे है तो वैक्सीन बाउल को नहीं खोला जाए। अगर 10 के गुणा के बाद चिकित्साकर्मी शेष बचत है तो दूसरे दिन की लिस्ट में से इनको बुलाकर इस संख्या को पूरा किया जाए।
;ब्लाक सीएमएचओ एवं नोडल अधिकारी बत्ती लाल मीना ने बताया कि 17 जनवरी को पहले दिन 69, दूसरे दिन भी 69 और तीसरे दिन 44, चोथे दिन 31और पांचवे दिन 100 व छटे दिन 448 व सांतवे दिन 247 जनों ने टीका लगवाया गया। जबकि 42डोज बेंकार हो गई। डैमेज हो चुकी है।निर्देशों की पालना नहीं, चाहते तो डैमेज नहीं होती वैक्सीन वैक्सीन की डोज डैमेज होने से बचाने के लिए हाल ही सरकार ने निर्देश जारी किए है कि अगर वैक्सीन लगवाने के लिए 10 के गुना में चिकित्साकर्मी नहीं आ रहे तो ऐसी परिस्थिति में दूसरे दिन की लिस्ट में से चिकित्सा कर्मियों को बुलाया जाए।और यह भी संभव न हो तो कोविन ऐप में तत्काल रजिस्ट्रेशन कर 10 ग्रुप तैयार किया जा सकता है।वही ब्लाक सीएमएचओ डॉ. बत्ती लाल मीना का कहना है कि नए साफ्टवेयर की वजह से पहले 4 सैशन में कुछ दिक्कते आई थी।एक वॉयल को खुलने के बाद 4 घंटे में ही उपयोग करना होता है। प्रत्येक वॉयल में 10 डोज होती है। ऐसे में बची डोज को डिस्चार्ज करना होता है। पहले नियम था कि हैल्थ वर्कर को तय दिन में ही वैक्सीन लगानी जानी थी। लेकिन कार्मिक के नहीं डोज खराब हो रही है।

हमें Support करें।

हमें इस पोर्टल को चलाये रखने और आपकी आवाज को प्रशासन तक पहुंचने के लिए आपकी सहायता की जरुरत होती है। इस न्यूज़ पोर्टल को लगातार चलाये रखने के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करके हमें सब्सक्राइब कर हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Subscribe
Phone Panchayat

Check Also

गंगापुर शहर अपना है नगर परिषद के सभी वार्डो में रहने वाले नागरिक भी अपने हैं।-सभापति

गंगापुर शहर अपना है नगर परिषद के सभी वार्डो में रहने वाले नागरिक भी अपने …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com