सुगम्य भारत अभियान

i.सुगम्य भारत, केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई नई पहल सार्वभौमिक बाधा मुक्त वातावरण का निर्माण करने के लिए पहुंच बढ़ाने, जागरूकता उत्पन्न करने और संवेदीकरण के लिए एक नई पहल

अभियान (सुगम्य भारत अभियान – एआईसी) 03 दिसंबर, 2015 से शुरुआत।

ii. इसके 3 मुख्य स्तंभ सुगम्य होने की प्रक्रिया में हैं। ये हैं:

 

iii. सभी क्षेत्रों में एआईसी की उपलब्धियां:

-1671 भवनों का एक्सेस ऑडिट संपन्न

-केन्द्र सरकार के 1030 भवनों सहित 1630 सरकारी भवनों को सुगम्यता की विशेषताएं प्रदान की गई।

 

iv. परिवहन क्षेत्र – परिवहन क्षेत्र को सुगम्य बनाने की कोशिश की जा रही है।

v. आईसीटी पारिस्थितिकी तंत्र (वेबसाइट) – लगभग 627 केंद्रीय और राज्य/ केंद्र शासित प्रदेश सरकारों की वेबसाइटों को सुगम्य बनाया गया।

यह भी पढ़ें :   कैबिनेट ने राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग के कार्यकाल को तीन साल बढ़ाने की मंजूरी दी

vi. टीवी देखने में सुगम्यता –

vii. शिक्षा – 11,68,292 सरकारी और सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों में से  8,33,703 स्कूलों (71%) को रैंप, रेलिंग और सुलभ शौचालयों की व्यवस्था के साथ बाधा मुक्त बनाया गया।

viii. संस्थागत साक्षरता सामग्री –

-पेशेवर लोगों के लिए ‘एक्सेस’ शीर्षक वाले गाइडबुक की श्रृंखला का पहला खंड – द फोटो डाइजेस्ट ऑन पब्लिक सेंट्रिक बिल्डिंग्स 2 मार्च 2021 को जारी किया गया।

-पेशेवर लोगों के लिए ‘एक्सेस’ शीर्षक वाले गाइडबुक की श्रृंखला का दूसरा खंड – द फोटो डाइजेस्ट ऑन एयरपोर्ट्स 19 नवंबर 2021 को जारी किया गया।

ix. मॉनिटरिंग – सुगम्य भारत अभियान के अंतर्गत प्रबंधन सूचना प्रणाली (एमआईएस) पोर्टल के माध्यम से गतिविधियों की मॉनिटरिंग की जा रही है।

x. अभिगम्यता के क्षेत्र विशिष्ट मानकों का निर्माण – नागर विमानन, रोडवेज, रेलवे, स्कूल और उच्चतर शिक्षा, संस्कृति, पर्यटन, गृह मंत्रालय, बैंकिंग, उपभोक्ता मामले और खेल सहित संबंधित मंत्रालयों/ विभागों द्वारा अभिगम्यता वाले क्षेत्रों के लिए विशिष्ट मानकों/ दिशा-निर्देशों को तैयार करने का काम किया जा रहा है। आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय द्वारा दिशा-निर्देश अधिसूचित किए गए हैं।

यह भी पढ़ें :   प्रधानमंत्री ने करियप्पा ग्राउंड में एनसीसी रैली को संबोधित किया

विभाग संवेदीकरण, सहायता और अभिगम्यता के क्षेत्र में विशेषज्ञों के नामों की सिफारिश करके उन्हें सहायता प्रदान कर रहा है।

xi. सुगम्य भारत ऐप:

 

एमजी/एएम/एके

यह भी देखें :   शान्ति सन्देश , डां. किरोडी लाल मीना को कादिर के पत्र के लिए, बडी उदेई के काजी की जुवानी

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें