केंद्रीय मंत्री श्री जी किशन रेड्डी ने उत्तरी पूर्वी क्षेत्र क्षेत्र में फील्ड तकनीकी सहायता इकाइयों के साथ समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की

माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के दूरदर्शी नेतृत्व में सरकार उत्तरी पूर्वी क्षेत्र भारत के विकास  को मजबूत करने के लिए एक मिशन मोड पर लगातार काम कर रही है।

इस विकास कार्य के रोडमैप को आगे बढ़ाते हुए, उत्तरी पूर्वी क्षेत्र क्षेत्र विकास मंत्रालय (एमडीओएनईआर) ने ‘फील्ड टेक्निकल सपोर्ट यूनिट्स (एफटीएसयू)’ बनाने का निर्णय लिया है जो उत्तरी पूर्वी क्षेत्र में योजनाओं की प्रगति के लिए राज्य सरकारों और मंत्रालय के बीच पुल और संचार सुविधा के रूप में काम करेंगे। वे पिछले दो महीनों से ये उत्तरी पूर्वी क्षेत्र में संबंधित राज्य मुख्यालय में तैनात हैं।

एफटीएसयू के परिणामों और प्रमुख सीखों के बाद केंद्रीय मंत्री श्री जी किशन रेड्डी ने आज नई दिल्ली में विज्ञान भवन एनेक्सी में एफटीएसयू के साथ एक समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की। श्री रेड्डी ने क्षेत्र में तैनात सभी एफटीएसयू के साथ वर्चुअल बातचीत की और पिछले 2 महीनों में उनके अनुभवों को सुना। बैठक में उत्तरी पूर्वी क्षेत्र विकास मंत्रालय के सचिव और मंत्रालय के अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें :   संसद में कांग्रेस ने माना- हमारे चुनावी घोषणा पत्र में 3 कृषि कानून भी

प्रत्येक स्टेट एफील्ड टेक्निकल सपोर्ट यूनिट में एक राज्य समन्वयक और 2 परियोजना सहयोगी होते हैं। वे वर्तमान विकास परियोजनाओं की निगरानी करने और उत्तरी पूर्वी क्षेत्र विकास मंत्रालय के साथ अपनी नियमित रिपोर्ट साझा करने के लिए जिम्मेदार हैं। राज्य परियोजनाओं के साथ, एफटीएसयू वर्तमान केंद्र सरकार की परियोजनाओं और आगामी परियोजनाओं की निगरानी करेंगे।

केंद्रीय मंत्री श्री रेड्डी ने सभी 8 उत्तरी पूर्वी क्षेत्र राज्यों में कनेक्टिविटी, पर्यटन, स्वास्थ्य सेवा, शिक्षा आदि से संबंधित चल रही परियोजनाओं की फास्ट ट्रैकिंग के संबंध में उनके सुझाव और प्रतिक्रिया मांगी और केंद्र और राज्य सरकारों के बीच साझेदारी और सहयोग से परियोजनाओं को तेजी से पूरा करने पर विचार-विमर्श किया। श्री रेड्डी का मानना ​​था कि एफटीएसयू उत्तरी पूर्वी क्षेत्र भारत के विकास में उत्प्रेरक साबित होंगे।

यह भी पढ़ें :   सुश्री लता मंगेशकर के निधन पर सम्मान स्वरूप 6 फरवरी से दो दिनों का राजकीय शोक

मंत्री श्री जी किशन रेड्डी ने उत्तरी पूर्वी क्षेत्र विकास मंत्रालय के सचिव और मंत्रालय के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ मंत्रालय की विभिन्न योजनाओं/परियोजनाओं की भी समीक्षा की।

****

 

एमजी/एएम/पीकेम/एजे

यह भी देखें :   Gangapur City : बिजली कर्मचारियों से मारपीट के विरोध में बिजली विभाग के कर्मचारियों ने दिया ज्ञापन |

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें