Karauli : सीएम गहलोत ने महामस्तकाभिषेक कार्यक्रम का झंडारोहण कर किया शुभारंभ, पायलट जिंदाबाद के लगे नारे।

Karauli : सीएम गहलोत ने महामस्तकाभिषेक कार्यक्रम का झंडारोहण कर किया शुभारंभ, पायलट जिंदाबाद के लगे नारे।

करौली के श्रीमहावीर जी कस्बे में 24 वे तीर्थंकर के नाम से प्रसिद्ध महावीर मंदिर में गुरुवार से 11 दिवसीय पंचकल्याण एवं महामस्तकाभिषेक कार्यक्रम का शुभारंभ हुआ। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने झंडारोहण कर कार्यक्रम की शुरुआत की। इसके बाद सीएम गहलोत ने भगवान महावीर के दर्शन करने के साथ ही जैन मुनियों का आशीर्वाद लिया और जनसभा को संबोधित किया। जनसभा को संबोधित करने के बाद जैसे ही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत अपने काफिले के साथ निकलने लगे तभी पायलट समर्थकों ने सचिन पायलट को मुख्यमंत्री बनाने की मांग को लेकर सचिन पायलट जिंदाबाद के नारे लगाने शुरू कर दिए और सीएम अशोक गहलोत के विरोधी नारे लगाए।
वहां मौजूद युवाओं ने पुरानी प्रतियोगी परीक्षा भर्तियों के बैकलॉग को भरने की मांग की। हालांकि इस दौरान वहां मौजूद पुलिसकर्मियों ने युवाओं को खदडने का भी प्रयास किया। लेकिन युवा अपनी धुन में सचिन पायलट जिंदाबाद के नारे लगाते हुए नजर आए। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि यह मेरा सौभाग्य है कि मुझे जैन समाज के प्रसिद्ध तीर्थ स्थल श्री महावीरजी के पंचकल्याण कार्यक्रम एवं महा मस्तकाभिषेक कार्यक्रम में भाग लेने का अफसर मिला है यह कार्यक्रम 24 साल में एक बार होता है। सीएम गहलोत ने कहा कि इस कार्यक्रम में आना मेरे लिए सफल हो गया है। उन्होंने कहा कि जहां सत्य अहिंसा है वहां ईश्वर निवास करते हैं और मैं भी जैन स्कूल में पढ़ा हूं। मैंने महावीर जी के विचारों को आत्मसात करने की भी कोशिश की है। उन्होंने वर्धमान महाराज के प्रवचन सुनकर कहा कि मैं धन्य अनुभव कर रहा हूं। इस दौरान पंचायत राज मंत्री रमेश चंद मीणा सार्वजनिक निर्माण मंत्री भजन लाल जाटव करौली विधायक लाखन सिंह सवाई माधोपुर विधायक दानिश अबरार सहित जैन समाज के हजारों लोग सहित अन्य समाजों के गणमान्य लोग मौजूद रहे।
पायलट समर्थक बोले सचिन पायलट बने मुख्यमंत्री।
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जैसे ही जनसभा को संबोधित करने के बाद अपने काफिले के साथ हेलीपैड के तरफ रवाना हुए तभी सचिन पायलट समर्थक युवा काफिले के बीच में आ धमके और सचिन पायलट जिंदाबाद और अशोक गहलोत विरोधी नारे लगाने लगे। युवाओं ने कहा कि सचिन पायलट को मुख्यमंत्री शीघ्र बनाना चाहिए युवाओं को मौका देना चाहिए। वहीं उन्होंने कहा कि जब गुर्जर आंदोलन के दौरान समझौता हुआ था। उसके कई बिंदुओं का अभी तक निस्तारण नहीं किया गया है। इसलिए उनका जल्दी से निस्तारण किया जाना चाहिए। साथ ही पुरानी प्रतियोगी परीक्षा भर्तियों को बैकलॉग भरने की जोर-शोर तरीके से मांग की।

यह भी देखें :  
यह भी पढ़ें :   Rajasthan : खुद बैंगन खाकर दूसरों को न खाने की सीख देने वाली कहावत राजस्थान के स्कूली शिक्षा विभाग पर चरितार्थ हो रही है।
Gangapur City : क्षेत्र का प्रसिद्ध धुंधेश्वर धाम के लाइव दर्शन, सावन का सोमवार और बारिश होते हुए

अपना सहयोग अवश्य दें।

हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अपना छोटा सा सहयोग देकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करें।

क्लिक करें