Sawai Madhopur : 1 वॉलटियर, 25 घर, 10 कदम स्वच्छता की ओर इस रविवार कचरे पर वार

Sawai Madhopur : 1 वॉलटियर, 25 घर, 10 कदम स्वच्छता की ओर इस रविवार कचरे पर वार

सवाई माधोपुर, 11 मार्च। सवाईमाधोपुर नगरपरिषद के सफाई कार्मिक दिन-रात मेहनत कर शहर की गन्दगी साफ कर सकते हैं लेकिन जब तक हम कचरा इधर-उधर फैंकता रहेंगे, आम जन स्वच्छता को आदत में नहीं बदलेगा, शहर साफ-सुथरा नहीं रह सकता, इसके लिये आमजन की पूर्ण भागीदारी सुनिश्चित करने के लिये ‘‘बदलेगा माधोपुर’’ मुहिम का विस्तार किया जा रहा है। इसके अन्तर्गत आगामी रविवार, 13 मार्च को सुबह 7 से 10 बजे तक शहर के सभी 60 वार्डों में न्यूनतम 25-25 घरों को लक्ष्य बनाकर व्यापक सफाई अभियान चलाया जायेगा। सम्बंधित वार्ड पार्षद, नगरपरिषद व अन्य विभागों के कार्मिक, आमजन वॉलंटियर्स के रूप में इसमें पूर्ण भागीदारी निभायेंगे। शुक्रवार को जिला कलेक्टर सुरेश कुमार ओला ने कलेक्ट्रेट सभागार में प्रेस वार्ता कर मीडियाकर्मियों से इस अभियान में पूर्ण सहयोग मांगा, इस पर सभी पत्रकारों ने व्यक्तिगत और संस्थागत सहयोग का वादा किया
कलेक्टर ने बताया कि इस रविवार को प्रत्येक पार्षद व अन्य लोग 25-25 घरों की 10 कदम परिधि में सफाई करेंगे। इस कचरे को एकत्र करने व डम्पिंग यार्ड तक पहुंचाने के लिये वार्डवार अधिकारियों की नियुक्ति की गई है। कलेक्टर ने सभी शहरवासियों से अपने घर, कार्यालय, प्रतिष्ठान, इनके आसपास की सडक, गली की सफाई कर इस अभियान में पूर्ण भागीदारी निभाने की अपील की है।
कलेक्टर ने बताया कि इस मुहिम में शहर के प्रत्येक व्यक्ति को जोडने का लक्ष्य है। इसके अन्तर्गत बजरिया और त्रिनेत्र गणेश मंदिर के पास स्थित दुकानों पर ग्रीन कलर के बोर्ड लगाने पर दुकानदारों ने सहमति दे दी है। नगरपरिषद के सभी 250 सफाई कार्मिकों को परिषद के नये लोगो वाली टी-शर्ट दी गई है। ऐसी टी-शर्ट जल्द ही स्कूली बच्चों को देने का विचार है। स्कूल प्रबंधन से बातचीत कर सप्ताह में 1 दिन सभी स्कूली बच्चों को यह टी-शर्ट पहन कर विद्यालय बुलाने का भी विचार प्रस्तावित है ताकि स्कूली बच्चे स्वयं तो इस मुहिम से जुडे हीं, अपने अभिभावकों को स्वच्छता के प्रति जागरूक कर सके। बोर्ड परीक्षा सम्पन्न होने पर विद्यार्थियों को इस अभियान में सक्रिय किया जायेगा।
कलेक्टर ने बताया कि स्वच्छता और जन अनुशासन बढने से शहर की छवि पर्यटकों के बीच अधिक बेहतर होगी, पर्यटन सेक्टर को बूस्ट मिलेगा। दुनियाभर में हुये अध्ययन बताते हैं कि स्वच्छता और अनुशासन बढने से अपराध में कमी आती है, युवाओं का स्पोर्टस और कम्युनिटी सर्विस के प्रति रूझान बढता है। डूंगरपुर, माउंट आबू, चंडीगढ, इंदौर की तरह सवाईमाधोपुर में भी स्वच्छता का कल्चर विकसित करना होगा ताकि देश-विदेश में हमारा सम्मान बढे, यहॉं के निवासी गर्व के साथ अपने शहर की खूबी बखान कर सकें।
इस अवसर पर कलेक्टर ने इस अभियान को जन-जन तक पहुंचाने के लिये सोशल, प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के लिये जिंगल, लोगो, विज्ञापन, स्लोगन तैयार करने के लिये मीडिया समेत सभी लोगों से सुझाव देने की अपील की तथा डूंगरपुर, जयपुर और जोधपुर में सर्विस के दौरान उनके द्वारा शहरी कचरा प्रबंधन, स्वच्छता के लिये किये गये नवाचार, प्रयास, उपलब्धि साझा कर स्थानीय परिस्थितियों के मुताबिक सवाईमाधोपुर में इन्हें लागू करने के सम्बंध में पत्रकारों के साथ विस्तार से मंथन किया।
उन्होंने बताया कि स्वच्छता के प्रति जनभागीदारी को नया आयाम देते हुये कलेक्ट्रेट में नई मुहिम शुरू की जा रही है। इसके अन्तर्गत कार्मिकों से प्रतिदिन 2 रू से लेकर 5 रू तक स्वैच्छिक सहयोग राशि मांगी जायेगी। इस राशि से अस्थायी सफाई कार्मिकों की नियुक्ति की जा रही है। स्वच्छता से सभी का जुडाव बढे, इसके लिये यह मुहिम शुरू की जा रही है अन्यथा सरकारी कोष से भी यह राशि खर्च की जा सकती है।