NEET: नीट की परीक्षा का 10 लाख में हुआ था सौदा, दूसरे की जगह एग्जाम देते पकड़ा गया ‘मुन्ना भाई

Bharatpur: नीट की परीक्षा का 10 लाख में हुआ था सौदा, दूसरे की जगह एग्जाम देते पकड़ा गया ‘मुन्ना भाई

Bharatpur News: भरतपुर में लाखों रुपये लेकर नीट की परीक्षा दिलाने वाले गिरोह का पर्दाफाश हुआ है. परीक्षा केंद्र से पकड़ा गया डमी कैंडिडेट एमबीबीएस तृतीय वर्ष का छात्र है.

भरतपुर (Bharatpur) में नीट की परीक्षा (NEET Exam) के दौरान डमी कैंडिडेट पकड़ाया है. डमी कैंडिडेट 10 लाख रुपये में दूसरे की जगह परीक्षा दे रहा था. पुलिस ने नकली परीक्षार्थी को हिरासत में लेकर पूछताछ की. पूछताछ के दौरान उसने साथियों की जानकारी दी. आरोपी से मिली जानकारी के आधार पर पुलिस ने 5 और लोगों को हिरासत में लिया. पकडे गए 5 अन्य लोग परीक्षा केंद्र के बाहर कार में बैठे थे. फिलहाल पुलिस सभी आरोपियों से पूछताछ कर रही है.
मास्टर आदित्येन्द्र सीनियर सेकण्डरी स्कूल को नीट की परीक्षा का केंद्र बनाया गया था. नीट की परीक्षा ठीक 2 बजे शुरू हो गई थी. परीक्षा केंद्र पर पुलिस का जाब्ता तैनात था. परीक्षा शुरू होने के लगभग दो घंटे बाद पर्यवेक्षक को राहुल गुर्जर पर शक हुआ.

यह भी पढ़ें :   कोयला संकट को देखते हुए प्रदेश में विद्युत आपूर्ति की समीक्षा बिजली बचत को बढ़ावा देने के लिए चलाएं जागरूकता अभियान -मुख्यमंत्री

पर्यवेक्षक ने परीक्षा केंद्र से राहुल गुर्जर को पुलिस के हवाले कर दिया. पुलिस पूछताछ में सामने आया कि राहुल गुर्जर की जगह अभिषेक निवासी दौसा परीक्षा दे रहा था. परीक्षा केंद्र पर पर्यवेक्षक ने राहुल गुर्जर और अभिषेक के फोटो का मिलान किया.

नीट परीक्षा में पकड़ाया मुन्ना भाई एमबीबीएस 

दोनों के फोटो में अंतर नजर आया. पर्यवेक्षक ने सूचना पुलिस को दी. पुलिस ने डमी अभ्यर्थी अभिषेक को हिरासत में लेकर पूछताछ की. पूछताछ में सामने आया कि डमी कैंडिडेट का सरगना रवि मीणा है. उसने ही 10 लाख रुपये में राहुल गुर्जर की जगह अभिषेक को डमी कैंडिडेट बनाकर परीक्षा देने भेजा था. अभिषेक अजमेर के जेएलएन कॉलेज में एमबीबीएस तृतीय वर्ष का छात्र है.

यह भी पढ़ें :   मतदान दलों को प्रशिक्षण 10 दिसम्बर को

कार में रवि मीणा के साथ राहुल गुर्जर भी बैठा था. फिलहाल पुलिस सभी आरोपियों से पूछताछ कर रही है. एएसपी अकलेश कुमार ने बताया कि मल्टीपरपज स्कूल में नीट का सेंटर था.

दूसरे की परीक्षा देने के लिए 10 लाख में सौदा

परीक्षा सेंटर में राहुल गुर्जर निवासी भंडाना जिला दौसा की जगह पर डॉ. अभिषेक निवासी करौली को बैठा हुआ पाया गया. पर्यवेक्षक ने अभिषेक को पकड़कर पुलिसकर्मी शिवलाल के सुपुर्द किया. पुलिस ने अभिषेक को हिरासत में लेकर पूछताछ की. पूछताछ में अभिषेक पांच और साथियों की जानकारी दी. पुलिसकर्मियों ने मथुरा गेट थाने को घटना की सूचना दी.

पेपर खत्म होने के बाद पुलिस आरोपियों को पकड़कर थाने ले आयी. आरोपियों की पहचान दयाराम निवासी अलवर, डॉ. अमित निवासी जयपुर, डॉ. रविकांत, सूर्य सिंह, राहुल गुर्जर, डॉ, अभिषेक के तौर पर हुई है. पुलिस कुल 6 युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है.