fbpx
सोमवार , सितम्बर 20 2021
Phone Panchayat
सरकारी अस्पताल की चिकित्सक डॉ. दीपिका वर्मा ने डॉ. हंसराज मीणा पर छेड़छाड़ का आरोप लगाया - अजमेर

सरकारी अस्पताल की चिकित्सक डॉ. दीपिका वर्मा ने डॉ. हंसराज मीणा पर छेड़छाड़ का आरोप लगाया – अजमेर

अजमेर के जवाजा के सरकारी अस्पताल की चिकित्सक डॉ. दीपिका वर्मा ने डॉ. हंसराज मीणा पर छेड़छाड़ का आरोप लगाया। पुलिस ने डॉ. मीणा की शिकायत पर भी मामला दर्ज किया। कोरोना काल में चिकित्सकों के बीच घमासान से ग्रामीण परेशान।
==========
अजमेर के जवाजा के सरकारी अस्पताल की महिला चिकित्सक डॉक्टर दीपिका वर्मा ने 12 सितंबर को जवाजा पुलिस थाने पर एक शिकायत दी है। इस शिकायत में अस्पताल के साथी चिकित्सक डॉक्टर हंसराज मीणा पर छेड़छाड़ का आरोप लगाया है। शिकायत में डॉक्टर वर्मा ने लिखा है कि डॉक्टर मीणा अकसर उनके साथ दुव्यर्वहार करते हैं। 12 सितंबर को तो डॉ. मीणा ने हाथ पकड़ कर छेड़छाड़ की। डॉ. वर्मा ने थानाधिकारी मानवेंद्र सिंह से आग्रह किया कि डॉ. मीणा के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाए। डॉ. मीणा की गैर जिम्मेदाराना हरकतों से अस्पताल में काम करना मुश्किल हो रहा है। वहीं डॉ. मीणा ने भी एक शिकायत दर्ज करवाई है। इस शिकायत में कहा गया है कि डॉ. दीपिका वर्मा के कुछ रिश्तेदारों ने 12 सितंबर को उनके साथ दुव्र्यवहार किया है। पुलिस ने दोनों पक्षों की ओर से मामला दर्ज कर लिया है तथा 12 सितंबर को डॉ. वर्मा के समर्थन में जो युवा आए थे उनसे पूछताछ भी की जा रही है। थानाधिकारी मानवेंद्र सिंह ने बताया कि डॉ. वर्मा ने जो आरोप लगाए हैं उसकी गंभीरता को देखते हुए 13 सितंबर को मजिस्टेट के समक्ष बयान दर्ज करवाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि इस मामले में जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी। वहीं दूसरी ओर जवाजा के ग्रामीणों का कहना है कि सरकारी अस्पताल के चिकित्सकों के आपसी झगड़े की वजह से मरीजों को परेशानी हो रही है। डॉ. हंसराज मीणा के विरुद्ध पहले भी शिकायतें दी गई है। डॉ. मीणा जवाजा में ही अपना प्राइवेट अस्पताल भी चलाते हैं।
पिछले चार वर्ष से डॉ. मीणा जवाजा में ही नियुक्त हैं। एक बार उन्हें एपीओ भी किया गया, लेकिन वे राजनीतिक एप्रोच की वजह से वापस जवाजा में ही नियुक्त हो गए। अस्पताल में चिकित्सकों के बीच आए दिन झगड़ा फसाद होता है। वहीं डॉ. मीणा का कहना है कि उनकी लोकप्रियता की वजह से कुछ लोगों को परेशानी है। वे चौबीस घंटे जवाजा में ही रहते हैं। चूंकि अधिकांश ग्रामीण उन्हीं से इलाज करवाते हैं, इसलिए अस्पताल के कुछ चिकित्सकों को भी ईष्र्या रहती है। उन्होंने माना कि पिछले दिनों उन्होंने जवाजा के सरपंच के विरुद्ध एससी एसटी एक्ट में मुकदमा दर्ज करवाया था। हालांकि बाद में पुलिस ने इस मुकमदे में एफआर लगा दी।

हमें Support करें।

हमें इस पोर्टल को चलाये रखने और आपकी आवाज को प्रशासन तक पहुंचने के लिए आपकी सहायता की जरुरत होती है। इस न्यूज़ पोर्टल को लगातार चलाये रखने के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करके हमें सब्सक्राइब कर हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Subscribe
Phone Panchayat

Check Also

रोटरी क्लब अजमेर मिड टाउन की ओर से अजमेर के सैटेलाइट अस्पताल में 20 सितंबर को आंखों का नि:शुल्क ऑपरेशन होगा।

रोटरी क्लब अजमेर मिड टाउन की ओर से अजमेर के सैटेलाइट अस्पताल में 20 सितंबर को आंखों का नि:शुल्क ऑपरेशन होगा।

रोटरी क्लब अजमेर मिड टाउन की ओर से अजमेर के सैटेलाइट अस्पताल में 20 सितंबर …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com