fbpx
सोमवार , सितम्बर 20 2021

Recent Posts

आवासीय विद्यालयों एवं छात्रावासों में सुविधा विकास  के लिए 10 करोड़ का अतिरिक्त प्रावधान

राजस्थान

मुख्यमंत्री का महत्वपूर्ण निर्णय— आवासीय विद्यालयों एवं छात्रावासों में सुविधा विकास के लिए 10 करोड़ का अतिरिक्त प्रावधान जयपुर, 17 सितंबर। मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने जनजाति समुदाय के समावेशी विकास की दिशा में आवासीय विद्यालयों एवं छात्रावासों में सुविधाओं के विकास के लिए 10 करोड़ रूपए केे अतिरिक्त बजट …

Read More »

अवैध खनन रोकने के लिए सरकार सख्त अब तक 32 हजार से ज्यादा प्रकरण दर्ज किये  – खान मंत्री

राजस्थान

अवैध खनन रोकने के लिए सरकार सख्त अब तक 32 हजार से ज्यादा प्रकरण दर्ज किये  – खान मंत्री जयपुर, 17 सितम्बर। खान मंत्री श्री प्रमोद जैन भाया ने शुक्रवार को विधानसभा में कहा कि राज्य सरकार द्वारा अवैध खनन रोकने के लिए हर स्तर पर प्रयास किये गए हैं और …

Read More »

15 माह में तैयार हो जाएगा दिल्ली-मुंबई डेडिकेटेड इलेक्ट्रिक व्हीकल एक्सप्रेस हाइवे। विश्व का पहला हाईवे होगा जिसके एलिवेटेड रोड पर सिर्फ जंगली जानवर दौड़ेंगे।

15 माह में तैयार हो जाएगा दिल्ली-मुंबई डेडिकेटेड इलेक्ट्रिक व्हीकल एक्सप्रेस हाइवे। विश्व का पहला हाईवे होगा जिसके एलिवेटेड रोड पर सिर्फ जंगली जानवर दौड़ेंगे।

15 माह में तैयार हो जाएगा दिल्ली-मुंबई डेडिकेटेड इलेक्ट्रिक व्हीकल एक्सप्रेस हाइवे। विश्व का पहला हाईवे होगा जिसके एलिवेटेड रोड पर सिर्फ जंगली जानवर दौड़ेंगे। सड़क मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि वाहनों से पेट्रोल डीजल की विदाई का समय आ गया है। टू व्हीलर बैटरी के साथ साथ इथेनॉल …

Read More »

जब चार लाख परीक्षार्थियों के बोझ से ही हाफ गईं राजस्थान रोडवेज की बसें तो 26 लाख रीट परीक्षार्थियों का बोझ कैसे उठाएगी?

जब चार लाख परीक्षार्थियों के बोझ से ही हाफ गईं राजस्थान रोडवेज की बसें तो 26 लाख रीट परीक्षार्थियों का बोझ कैसे उठाएगी?

जब चार लाख परीक्षार्थियों के बोझ से ही हाफ गईं राजस्थान रोडवेज की बसें तो 26 लाख रीट परीक्षार्थियों का बोझ कैसे उठाएगी? प्रदेशभर में 26 सितंबर को एक ही दिन में होनी है रीट की परीक्षा। रोडवेज के एमडी सुमित वर्मा ने मुख्य सचिव के समक्ष उठाया मुद्दा। अजमेर …

Read More »

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत उपस्थित होते तो राजस्थान विधानसभा में इतना हंगामा नहीं होता।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत उपस्थित होते तो राजस्थान विधानसभा में इतना हंगामा नहीं होता।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत उपस्थित होते तो राजस्थान विधानसभा में इतना हंगामा नहीं होता। सीपी जोशी, शांति धारीवाल, गोविंद सिंह डोटासरा, प्रताप सिंह खाचरियावास समझते हैं कि उन्हीं की वजह से गहलोत सरकार गिरने से बची। इस बार मंत्री रघु शर्मा लो प्रोफाइल में दिखे। कांग्रेस और विपक्षी दलों के हंगामे …

Read More »
Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com